Homeराज्यBreaking : जिले की सीमा में प्रवेश के लिए 90 घंटे पहले...

Breaking : जिले की सीमा में प्रवेश के लिए 90 घंटे पहले का रिपोर्ट मान्य, दुर्ग में 2 और नेवई में 4 पाजिटिव, क्षेत्र माइक्रो कंटेनमेंट जोन में तब्दील

दुर्ग @ News-36. जिला प्रशासन कोरोना के तीसरी लहर ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य और पुलिस प्रशासन को सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं। वहीं दुर्ग और नेवई में मामला सामने के बाद माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्णय लिया गया है और कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे के आदेश पर नगर पालिक निगम प्रशासन दुर्ग ने डिपरापारा माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है।


वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित
वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाने के लिए रोड पर बेरिकेटिंग लगाया गया है।अब यहां जिला प्रशासन की अनुमति के बिना कोई भी व्यक्ति आवाजाही नहीं कर सकता। जिला प्रशासन के अनुसार डिपरा पारा में पहले दो लोगों का रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। इसके बाद आज फिर से 2 केस पॉजिटिव मिले हैं। इस वजह से एतिहातन माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।

सीआईएसफ के 4 जवानों की रिपोर्ट पाजिटिव

इधर नेवई स्थित सीआईएसफ के 4 जवानों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इसके बाद से कैंप को सील कर दिया गया है। चारो जवानों को उतई सेंटर में आइसोलेट कर दिया गया है। चारो जवान छुट्टी के बाद ड्यूटी पर लौटे थे। इस दौरान उनका टेस्ट किया गया। जिसमें रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

90 घंटे पहले निगेटिव रिपोर्ट
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि राजनांदगांव से दुर्ग की सीमा में प्रवेश देने से पहले यात्रियों का रिपोर्ट प्रस्तुत करना होगा। जिन लोगों का 90 घंटे पहले निगेटिव रिपोर्ट होगा। केवल उन्हीं लोगों को जिले में प्रवेश दिया जाएगा। इसी प्रकार दुर्ग और पावर हाउस रेलवे स्टेशन में रायपुर और नागपुर की तरफ यात्रा करने वाले लोगों का जांच किया जाएगा। जिन लोगों का रिपोर्ट निगेटिव होगा। उन्हें घर जाने दिया जाएगा। जिनका रिपोर्ट पॉजिटिव होगा उसे आइसोलेट किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!