HomeEntertainmentCrimeTTE पर जानलेवा हमला करने वाले युवक गिरफ्तार

TTE पर जानलेवा हमला करने वाले युवक गिरफ्तार

बिना टिकट के बीकानेस एक्सप्रेस में कर रहे थे यात्रा 

टीटीई द्वारा टिकट की मांग किए जाने पर किया था हमला

कपूरथला पंजाब का रहने वाला है आरोपी युवक

दुर्ग . दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे (SECR) में यात्रा के दौरान मुख्य टिकट निरीक्षक (TTE) से मारपीट करने वाले आरोपी जगजीत सिंह हंस (23) के खिलाफ रेलवे पुलिस बल(GRPF) ने अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। जीआरपी ने आरोपी युवक का मेडिकल जांच के बाद न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। जीआरपी के अनुसार आरोपी पंजाब कपूरथला का रहने वाला है। वह रायपुर रेलवे स्टेशन पर बीकानेर एक्सप्रेस 20845 में चढ़ा था।

घटना पावर हाउस स्टेशन से गाड़ी छूटने के बाद का

मारपीट की घटना बीती शनिवार की रात की है। टीटीई हिमांशु कुमार एवं अन्य की बीकानेर एक्सप्रेस 20845में डयूटी पर थे। बोगी संख्या S-5,S-6 और S-7 में  टिकट की जांच कर के दौरान मारपीट की गई है। प्राथी हिमांश कुमार ने बताया कि रात 9.45 बजे भिलाई पावर हाउस स्टेशन से गाड़ी छूटने पर बोगी संख्या S-5 में टिकट की जांच करते हुए आगे बढ़ रहा था। इसी बीच जसवंत सिंह से टिकट दिखाने के लिए कहा गया, इतने में वह आग बबूला हो गया और मुझसे टिकट मांगता है… कहते हुए मारपीट शुरू कर दिया है।

मोबाइल से टीटीई पर किया था हमला

स्थिति को देखते हुए कर्मिशियल कंट्रोल रूम में घटना की जानकारी देने के लिए अपने मोबाइल से संपर्क करने का प्रयास किया। इतने में युवक गाली गालौज करते हुए मेरे पास आ गया और मोबाइल को छीन लिया। फिर उसी मोबाइल से मेरे चेहरे पर वार कर दिया। इससे मेरे आंख के ऊपर चोटे आई है और खून निकलना शुरू हो गया। इसके बाद उन्होंने मोबाइल को पटक कर तोड़ दिया। फिर हाथ मुक्के से मारपीट किया। आसपास खड़े कुछ लोगों और मेरे सहयोगी टीटीई  रणजीत कुमार साहनी उन्हें समझाने का प्रयास, लेकिन वे नहीं माने और उनसे भी मारपीट करने लगा तो  सहयोगी टीटीई  साहनी ने कंट्रोल रूम में फोन कर घटना की सूचना दी और जैसे ही ट्रेन दुर्ग स्टेशन पहुंचा। जीआरपी और आरपीएफ की टीम ने युवक को हिरासत में ले लिया ।

घटना को लेकर कर्मचारियों में आक्रोश

इस घटना के बाद से रेलवे के कर्मचारियों और मुख्य टिकट निरीक्षकों (TTE) में काफी आक्रोश है। उनका कहना है कि लोगों की सुरक्षा और जिम्मेदारी के अनुसार टिकट की जांच कर रहे थे, लेकिन युवक ने टिकट दिखाने के बजाय जबरदस्ती मारपीट कर डराने धमकाने का काम किया और शासकीय कार्य में बाधा डालने का प्रयास किया। टीटीई को कम्प्लेन करने पर जान से मारने की धमकी भी दी है।

जांच के बाद अपराध पंजीबद्ध

प्रार्थी की शिकायत के अनुसार आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 186, 427,506,332,353 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

आर के पांडेय, चौकी प्रभारी, दुर्ग जीआरपी

यह भी पढ़ें: Breaking News: डयूटी में तैनात टिकट निरीक्षकों से युवकों ने की मारपीट

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!