HomeEntertainmentCrimeनाश्ता के प्लेट ने तीन दोस्तों को पहुंचा दिया सलाखों के पीछे

नाश्ता के प्लेट ने तीन दोस्तों को पहुंचा दिया सलाखों के पीछे

तीनों ने मिलकर की हत्या, घटना स्थल पर मिले नाश्ता प्लेट के आधार पर आरोपियों तक पहुंची पुलिस

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के पाटन पुलिस की टीम ने आंवला बगीचा हत्याकांड की गुत्थी सुलझा लिया है। दो दिन पहले ही हुई हत्याकांड में मृतक का दोस्त ही हत्यारा निकला। पाटन पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी पाटन श्री देवांश सिंह राठौर को अवगत कराते हुये वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में एसडीओपी. पाटन श्री देवांश सिंह राठौर थाना पाटन हमराह उनि. राधेश्याम जुर्री के साथ घटना स्थल पहुॅचकर नास्ता प्लेट एवं अन्य खाने पीने का सामान एवं घटना स्थल से साक्ष्य एकत्र किया गया।

ग्रामीण अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत साहू ने बताया जाॅच के दौरान घटना स्थल पर नाश्ता के प्लेट मिला था। प्लेट के आधार पर ही पुलिस आरोपियाें तक पहुंची। पुलिस की टीम ने घुघवा मोड के पास स्थित होटल में यह नास्ता प्लेट मिलता है। उसके से आसपास सीसीटीवी फुटेज निकाली और आसपास के लोगों को मृतक का फोटो दिखाकर पता किया गया। जिसमें चार युवक एक ही वाहन पल्सर क्रमांक सीजी 07 एलएम 1734 होना पता चला। मृतक की पहचान अजय कुमार गौतम पिता स्व. फिरंतु राम उम्र 20 वर्ष साकिन जागृति चौक भिलाई तीन निवासी के रूप में  हुई। उनके साथ में तीन युवकों की भी पहचान हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो आरोपियाें ने गुनाह कबूल लिया।

ये हैं आरोपी

पुरैना निवासी नरेन्द्र कुमार ध्रुव पिता राजकुमार धु्रव उम्र 22 वर्ष, प्रकाश कुमार विश्वकर्मा पिता त्रिभुवन विश्वकर्मा उम्र 20 वर्ष और अनिल कुमार विष्वकर्मा पिता सुकदेव विश्वकर्मा उम्र 21 वर्ष जागृति चौक भिलाई 3 को गिरफ्तार किया है।

बहन से था प्रेम प्रसंग

मुख्य नरेन्द्र कुमार ध्रुव ने बताया कि मृतक अजय कुमार गौतम का उसकी बहन के साथ अश्लील बातें कर रहा था। जिसे कई बार मना करने पर नहीं मान रहा था। जिससे वह अपने दोस्तों के साथ मिलकर योजना बनाकर रवेली राखी रोड आंवला बगीचा में लाकर साथ शराब पीया। वहां रखे डण्डे से एवं चाकू से उसके शरीर पर प्राणघातक हमला कर घटना स्थल से फरार हो गया।

20 मई की घटना

घटना 20 मई की है। आंवला बगीचा रवेली राखी रोड के पास कोई अज्ञात व्यक्ति पड़ा हुआ मिला था। पाटन के ईआरव्ही वाहन की टीम ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान अजय ने की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें:120 करोड़ की लागत से बनेगा 100 बिस्तर का सुविधायुक्त कैंसर इंस्ट्रीट्यूृट

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!