HomeAdministrationBreaking: संभागायुक्त ने जल संसाधन विभाग के सब इंजीनियर को किया निलंबित

Breaking: संभागायुक्त ने जल संसाधन विभाग के सब इंजीनियर को किया निलंबित

एनीकट का सुचारू रूप से संचालन नहीं किए जाने पर कार्रवाई

मटिया दर्री के ग्रामीणों ने की थी इंजीनयर के खिलाफ शिकायत 

दुर्ग. संभागायुक्त महादेव कावरे ने कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में जल संसाधन विभाग के सब इंजीनियर को निलंबित कर दिया है। सब इंजीनियर को निलंबन अवधि में उप संभाग कार्यालय राजनांदगांव में सेवाएं देंगी। संभागायुक्त ने राजनांदगांव कलेक्टर डोमन सिंह की अनुशंसा पर निलंबन की कार्रवाई की है।

मामला डोगरगांव विकासखंड का

मामला जल संसाधन विभाग के उप संभाग कार्यालय का है। राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव विकासखंड अंतर्गत मटियादर्री एनीकट का है। इस एनीकट के सुचारू रूप से संचालन की जिम्मेदारी सब इंजीनयर किरण रामटेके की थी, लेकिन वह एनीकट के संचालन में जिम्मेदारी का निर्वहन नहीं कर रहे थे। इस वजह से ग्रामीणों को नदी पार करने में कई बार परेशानी का सामना करना पड़ा है। बहाव की वजह आसपास के 20 किसानों की खेतों के फसल भी बर्बाद हो गए। इसकी शिकायत 11 नवंबर को कलेक्टर से की थी। कलेक्टर ने मामले की जांच करवाया।

अधिकारी करेंगे धान खरीदी केंद्रों की निगरानी, संभागायुक्त को देंगे प्रतिवेदन रिपोर्ट

बताया जा रहा है कि इसके बाद भेंट मुलाकात में ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी की। कलेक्टर ने जांच करवाने और रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई की जानकारी दी थी। जांच में शिकायत सही पाए जाने पर कलेक्टर ने सब इंजीनयर को निलंबित करने की अनुशंसा के साथ दुर्ग संभागायुक्त को आगे की कार्रवाई के लिए पत्र लिखा था।

कलेक्टर की अनुशंसा पत्र के अनुसार दुर्ग संभागायुक्त को उप अभियंता किरण रामटेके को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में उनका कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग राजनांदगांव में अटैल किया गया है। निलंबन अविध में जीवन निर्वाह भत्ता दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: बुजुर्ग दंपत्ति से धोखाधड़ी करने वाले आरोपी गिरफ्तार, 1.20 करोड़ का किया धोखाधड़ी

मानवाधिकार आयोग की टीम ने बाल संप्रेक्षण गृह का लिया जायजा, अस्पताल में अलग से जेल वार्ड बनाने के दिए निर्देश

बता दें कि राजनांदगांव कलेक्टर डोमन सिंह ने कमिश्नर दुर्ग को प्रेषित अपने प्रतिवेदन में उल्लेख किया है कि डोंगरगांव विकासखण्ड के अंतर्गत मटियादर्री एनीकट कम काजवे का निर्माण वर्ष 2015 कराया गया था। इसकी लम्बाई 173 मी एवं ऊंचाई 2.5 मीटर है। एनीकट से भूजल स्तर में वृद्धि के साथ निस्तारी एवं किसान स्वयं के साधन से खरीफ एवं रबी फसल हेतु सिंचाई करते हैं। एनीकट के अपस्ट्रीम में इटेकवेल का निर्माण 2 वर्ष पूर्व लोक स्वास्थ्य यात्रिकी विभाग द्वारा डोंगरगाव के पेयजल की आपूर्ति के लिए किया गया है, इससे डोंगरगांव नगर के पेयजल की आपूर्ति की जाती है।

12 सितम्बर 2022 को भारी वर्षा होने से कैचमेंट का पानी एवं मोगरा बैराज से छोड़ा गया पानी को मिलाकर कुल 85,400 क्यूसेक पानी प्रवाहित हो रहा था, जिससे बाढ़ की स्थिति निर्मित होने से एनीकट का बांया तट आऊट फ्लैकिंग हो गया। एनीकट का बाउंड्रीवाल सुरक्षित है। आऊट फ्लैकिंग होने से कृषकों की लगभग 5-6 एकड़ फसल खराब हो गई एवं जमीन का कटाव हो गया। तहसीलदार, डोंगरगाव से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार ग्राम मटिया के 20 किसानों की फसल क्षति एवं जमीन का कटाव हो गया। एनीकट का संचालन प्रारंभिक रूप से उपअभियंता द्वारा किया जाता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!