Homeनिकायबुलेट के सायलेंसर को मोडिफाइड कराना पड़ा महंगा, 377 चालकों के लायसेंस...

बुलेट के सायलेंसर को मोडिफाइड कराना पड़ा महंगा, 377 चालकों के लायसेंस निलंबित

भिलाई.बुलेट के सायलेंसर को मोडिफाइड कराना लोगाें को महंगा पड़ा। यातायात विभाग ने ऐसे लोगों के लायसेंस को निलंबन की कार्रवाई की। पुलिस अधीक्षक डॉ.अभिषेक पल्लव के निर्देश पर यातायात विभाग ने तेज आवाज बुलेट, मोडिफाईड वाहनों के द्वारा तेज रफ्तार एवं लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने के मामले 377 लोगों के लाइसेंस को निलंबित कर दिया है।

दुर्ग को लगातार तेज आवाज बुलेट, मोडिफाईड वाहनो के द्वारा तेज रफ्तार एवं लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने की शिकायत आम नागरिको द्वारा की गई थी। इन वाहन चालको पर कार्यवाही के लिए यातायात पुलिस दुर्ग को पुलिस अधीक्षक दुर्ग द्वारा निर्देशित किया गया है जिसके परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, (यातायात) के मार्गदर्शन एवं उप पुलिस अधीक्षक, (यातायात) के नेतृत्व में गठित सिविल टीम के द्वारा लगातार दुर्ग-भिलाई के ऐसे क्षेत्र जहां इन वाहन चालको द्वारा वाहन चालन करते पाया गया उन पर ताबडतोड कार्यवाही की जा रही है एवं इन वाहन चालको के लायसेंस भी निलंबन के लिए परिवहन विभाग को भेजा जा रहा है।

कुल 377 वाहन चालको के लायसेंस निलंबन के लिए भेजा गया है साथ ही जिन वाहनो में मोडिफाईड सायलेंसर लगा पाया गया उन वाहनो को यातायात मुख्यालय लाकर ऐसे सायलेंसर को निकाला जा रहा है और सही मानक के सायलेंसर लगाकर मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्यवाही की जा रही है। कुछ वाहन चालक नाबालिक भी पाये गये जिनके परिजन को यातायात कार्यालय बुलाकर कार्यवाही कर समझाईस दी जा रही है। यातायात पुलिस दुर्ग द्वारा आगामी दिनों में यह अभियान कार्यवाही और सख्त एवं तेज की जायेगी।

पुलिस प्रशासन की अपील

वे अपने बच्चों को वाहन मोडीफाईड करके वाहन चालन करने ना दे, तेज रफ्तार वाहन चलाने से मना करें अन्यथा यातायात पुलिस द्वारा ऐसे वाहनों की जप्ती की कार्यवाही की जा रही है और नये मोटर व्हीकल एक्ट के तहत अर्थदण्ड वसूल किया जा रहा है, जिसके जवाबदार स्वयं होगें। यदि आपके क्षेत्र में इस प्रकार के वाहन हो तो इसकी सूचना यातायात वाट्सअप नंबर 9479192029 पर भेजे। जिस पर पुलिस द्वारा कार्यवाही की जावेगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!