Homeराज्यबने करेस सरकार अब तो घर बैठे इलाज अऊ फोकट में दवाई...

बने करेस सरकार अब तो घर बैठे इलाज अऊ फोकट में दवाई भी मिल जथे

  • ग्राम सुरगी में बच्चुराम ने मुख्यमंत्री को बाजार योजना के बारे में बताया
  • मुख्यमंत्री ने माता शीतला की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि की कामना

रायपुर.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भेंट मुलाकात कार्यक्रम के तहत मंगलवार को राजनांदगांव विधानसभा के ग्राम सुकुल दैहान पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री ने माता शीतला मंदिर में पूजा कर प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि और ख़ुशहाली की कामना की।

Chhattisgarh
सुरगी में भेंट मुलाकात कार्यक्रम

छत्तीसगढ़ में शीतला माता का विशेष महत्व और आस्था है। गांव में कोई भी शुभ और मंगल कार्य माता शीतला की पूजा कर की जाती है। छत्तीसगढ़ में विशेष आस्था के साथ शीतला माता की पूजा की जाती है। गांव में ऐसी मान्यता है कि शीतला माता की पूजा करने से गांव में किसी प्रकार की बीमारी या प्राकृतिक प्रकोप नहीं आता है। माता शीतला गांव की रक्षा करती है। इस विश्वास के साथ गांव में माता शीतला का विशेष महत्व होता है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ़िया अपने स्कूल के बारे में बताया

Chhattisgarh
भेंट मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री से चर्चा करती हुई छात्र

वहीं यशवंत जंघेल ने धाराप्रवाह अंग्रेजी में मुख्यमंत्री के उत्तर दिए और जनसमूह को खुश कर दिया।पूनम साहू ने अंग्रेजी में उत्तर दिया कि पैंडेमिक में भी आपने स्कूल बना दिया।मुख्यमंत्री ने कहा कि आप मन सुनेव। बच्ची ह गितमीट गितमीट अंग्रेजी में तेजी ले बोलिस।
कतका झन ल समझ आइस।फिर कहा कि देखिए कितना बढ़िया काम हो रहा है। हमारे बच्चों की अंग्रेजी कितनी अच्छी हो गई है।

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक

बच्चुराम सेन ने मुख्यमंत्री से कहा कि मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना की गाड़ी गांव में गाड़ी आती है। वहां से दवाई ले रहा हूँ। पैसा नहीं लगता। बच्चुराम ने कहा कि अच्छी योजना है। मुझे अब तक भूमिहीन योजना का लाभ नहीं मिला है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कहा कि इसे दिखवा लें। मुख्यमंत्री ने कहा कि सेन जी बाल काटते हैं। ये भी इस योजना के पात्र हितग्राही हैं। लोहार हैं वो भी पात्र हैं। शीतला मंदिर में महाराज ने पूजा की, वो भी पात्र हैं। बस ये कि भूमि नहीं होना चाहिए।

Chhattisgarh
किसान के घर भोजन करते हुए मुख्यमंत्री

भूपेश बघेल ने दोपहर का भोजन किसान श्री लिल्लू दास खरे के घर में किया। घर पहुंचने पर लिल्लू दास और उनके परिवारवालों ने उत्साह  एवं आत्मीय भाव से मुख्यमंत्री का स्वागत पारंपरिक तरीके  के साथ किया । मुख्यमंत्री को कांसे की थाली में पारंपरिक छत्तीसगढ़ी भोजन परोसा गया। भोजन में लाखड़ी भाजी, चना भाजी, जीरा फूल चटनी, मूंनगा दाल ,बैगन टमाटर , चीला , दूध फरा, भजिया कढ़ी, गुलगुला एवं अन्य पारंपरिक छत्तीसगढ़ी व्यंजन सादगी के साथ  ग्रहण किया।

 

सादगीपूर्वक भोजन ग्रहण कर मुख्यमंत्री ने श्री लिल्लू दास खरे के परिवार के सदस्यों का कुशलक्षेम पूछा एवं स्नेह के साथ भोजन कराने के लिए धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री के साथ खुज्जी विधायक छन्नी साहू,डोंगरगांव विधायक दलेश्वर साहू ,महापौर हेमा देशमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने भोजन ग्रहण किया।

मुख्यमंत्री ने की घोषणाएं

  • सुरगी में जिला सहकारी बैंक के शाखा खोलने की घोषणा।
  • सुरगी हाईस्कूल में मैदान का विकास और लाइटिंग।
  • हरदी-सुरगी सड़क की प्रशासनिक स्वीकृति।
  • सोमनी-नवागांव सड़क का जीर्णोद्धार।
  • सूखा नाला बैराज से आलीखूंटा तक सिंचाई सुविधा और नाली निर्माण की घोषणा।
  • तोरणकट्टा के आश्रित गांव मनकी में धान खरीदी केंद्र खोलने की घोषणा।
  • भरेगांव के बूढ़ादेव तालाब में सौंदर्यीकरण और पचरी निर्माण।
  • ग्राम सिंघोला में भानेश्वरी मंदिर जीर्णोद्धार और तालाब सौंदर्यीकरण।
  • रानीतराई में हाईस्कूल में दो अतिरिक्त कक्ष और धामनसारा में एक अतिरिक्त कक्ष।

यह भी पढ़ें: जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया में विलंब, सहायक ग्रेड 2 को शोकॉज नोटिस

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!