Homeदेशछत्तीसगढ़ को ‘एस्पायरिंग लीडर‘ सम्मान

छत्तीसगढ़ को ‘एस्पायरिंग लीडर‘ सम्मान

रायपुर. छत्तीसगढ़ की नीतियों को एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान मिला है। नई दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने स्टार्टअप क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए छत्तीसगढ़ को “एस्पायरिंग लीडर’ सम्मान प्रदान किया है। केन्द्रीय मंत्री गोयल ने छत्तीसगढ़ के तीन अधिकारियों अनुराग पांडेय, विशेष सचिव वाणिज्य एवं उद्योग विभाग, प्रवीण शुक्ला अपर संचालक उद्योग, एवं सुमन देवांगन सहायक संचालक को सम्मानित किया गया।

बता दें कि छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक नीति- 2019-24 के अंतर्गत स्टार्टअप इकाईयों को प्रोत्साहित करने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य स्टार्टअप पैकेज लागू किया गया है। भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त इकाईयों को छत्तीसगढ़ में स्थापित होने पर विशेष प्रोत्साहन पैकेज घोषित किया गया है। पैकेज के तहत ब्याज अनुदान अधिकतम 70 प्रतिशत अधिकतम 11 वर्ष के लिए, स्थायी पूंजी निवेश अनुदान अधिकतम 55 प्रतिशत, नेट एसजीएसटी प्रतिपूर्ति अधिकतम 15 वर्ष तक, विद्युत शुल्क छूट अधिकतम 10 वर्ष तक एवं पात्रता अनुसार औद्योगिक नीति 2019-24 में उल्लेखित अन्य अनुदान जैसी भू-प्रब्याजी में छूट, स्टाम्प शुल्क छूट, परियोजना प्रतिवेदन में छूट आदि की सुविधा प्रदान की जाती है।

स्टार्टअप को तीन वर्षों तक भवन किराए का 40 प्रतिशत, जिसकी अधिकतम सीमा 8 हजार रूपए प्रति माह प्रतिपूर्ति दी जा रही है और स्टार्टअप इकाईयों द्वारा सेमिनार, वर्कशॉप, संगोष्ठी, प्रदर्शनी में भाग लिए जाने पर 50 प्रतिशत की प्रतिपूर्ति, जिसकी अधिकतम सीमा एक लाख रूपए प्रति वर्ष होगी, दी जा रही है। राज्य में स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने इन्क्यूबेटर की स्थापना के लिए किए जाने वाले व्यय का 50 प्रतिशत अधिकतम राशि 50 लाख रूपए एवं संचालन के लिए 3 लाख रूपए प्रति वर्ष अनुदान के रूप में दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें:मुख्यमंत्री ने बैकुण्ठपुर में 87.20 करोड़ की लागत से कुल 19 कार्यों का किया लोकार्पण व भूमिपूजन

समीक्षा बैठक: सीएम ने अधिकारियों से कहा,स्कूलों में अनियमितता की शिकायत मिली है,ध्यान दें…

औद्योगिक पुरस्कार योजना पुरस्कार योजना के अंतर्गत स्टार्टअप श्रेणी में भी पुरस्कार देने का प्रावधान किया गया है। प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कारों के रूप में क्रमशः 1,51,000 रूपए, 1,00,000 रूपए एवं 51,000 रूपए की राशि एवं प्रशस्ति पत्र देने का प्रावधान किया गया है।

यह भी पढ़ें: चीफ जस्टिस ने बेमेतरा जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर का लिया जायजा

शहीद पाण्डेय पंचतत्व में विलीन,उनके बड़े बेटेअभिराज ने दी मुखाग्नि

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!