Homeबिजनेसवोकल फॉर लोकल,लोकल टू ग्लोबल थीम पर सजा छत्तीसगढ़ का पवेलियन

वोकल फॉर लोकल,लोकल टू ग्लोबल थीम पर सजा छत्तीसगढ़ का पवेलियन

  • प्रगति मैदान में 41वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का आयोजन
  • छत्तीसगढ़िया उत्पादों से सजा छत्तीसगढ़ का पवेलियन
  • 27 नवंबर तक चलेगा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला

नई दिल्ली. प्रगति मैदान में 41वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले सोमवार को केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने शुभारंभ किया। इस बार मेले की थीम वोकल फॉर लोकल, लोकल टू ग्लोबल पर आधारित छत्तीसगढ़ के पवेलियन को भी सजाया गया है।

मेले में 29 राज्य हुए हैं शामिल

छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध संचालक सारांश मित्तर ने छत्तीसगढ़ के पवेलियन का उद्घाटन किया। 14 से 27 नवम्बर तक आयोजित होने वाले इस अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में 29 राज्यों सहित सभी केंद्र शासित प्रदेश शामिल हो रहे हैं। मेले में सभी राज्य अपनी प्रगति के साथ ही प्रत्येक क्षेत्र की विशेषता के अनुसार अपने औद्योगिक, कृषि और हस्तशिल्प उत्पादों का प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

हाल नंबर 2 में छत्तीसगढ़ का पवेलियन

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में छत्तीसगढ़ का पेवलियन इस साल हॉल नंबर 2 फर्स्ट फ्लोर पर बनाया गया है। तीन सौ वर्ग फुट के क्षेत्र में प्रदर्शन के लिए कुल 12 स्टाल लगाए गए हैं। वोकल फॉर लोकल, लोकल टू ग्लोबल की अवधारणा पर छत्तीसगढ़ के ग्रामोद्योग, स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद, हैंडलूम, हस्तशिल्प, हर्बल, कृषि विभाग आदि के स्टॉल लगाए गए हैं। वहीं, 21 नवंबर को राज्य सांस्कृतिक दिवस मनाया जाएगा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के कलाकार राज्य की समृद्ध लोक कला और संस्कृति का प्रदर्शन करेंगे।

महापुरुषों के योगदान को युवा पीढ़ी को पढ़ने की है जरूरत, जिन्होंने देश के लिए …. -मुख्यमंत्री बघेल

आजादी के 75वें वर्ष में आयोजित इस मेले में अमृत महोत्सव की झलक भी देखने को मिल रही है। यह मेला 73 हजार वर्ग मीटर में नए आधुनिक प्रदर्शनी हाल में आयोजित किया गया है, जो कि काफी खूबसूरत है। मेले में देशी-विदेशी तीन हजार से अधिक प्रदर्शक भाग ले रहे हैं। पार्टनर स्टेट जहां बिहार, झारखंड, महाराष्ट्र है। वहीं फोकस स्टेट उत्तर प्रदेश व केरल है।

यह भी पढ़ें: संपत्ति काअधिकार भले ही मौलिक अधिकार नहीं है,लेकिन संविधान में है विशेष स्थान – उच्च न्यायालय

हाईकोर्ट फैसला:आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को चुनाव समेत अन्य दूसरे कामों में लगाने पर रोक

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!