Homeराज्यमुख्यमंत्री ने शहीदों के परिजनों को तिरंगा भेंटकर किया सम्मान

मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिजनों को तिरंगा भेंटकर किया सम्मान

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मुख्यमंत्री ने सम्मान स्वरूप शहीदों के परिजनों को सौंपा तिरंगा

रायपुर.आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर शनिवार को राजधानी समेत राज्य के सभी जिलों में ‘हमर तिरंगा’ कार्यक्रम के अंतर्गत शहीदों के परिजनों का सम्मान किया गया। शहीदों के परिजनों को उनके पास जाकर शॉल, श्रीफल और तिरंगा भेंटकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा शहीदों के परिजनों का सम्मान करना हम सबके लिए भावुक क्षण होता है वहीं हमें उनकी शहादत पर गर्व भी है। हमारे जवानों ने अपने परिवार की चिंता किये बगैर देश की सुरक्षा के लिए अपना सर्वाेच्च बलिदान दिया है।

chhattisgarh
अमर शहीद की माता जी को तिरंगा भेंट करते हुए मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीदों ने कर्तव्यपथ पर अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया, ऐसे में हमारी जिम्मेदारी है कि उनके परिजनों का ख्याल रखें। उन्होंने परिजनों को संबोधित करते हुए कहा कि आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, आप सब हमारे परिवार का हिस्सा हैं।

chhattisgarh
‘शहीद के परिजनों को शाल, श्रीफल और तिरंगा भेंट करते हुए मुख्यमंत्री बघेल
Chhattisgarh
‘शहीद के परिजन को तिरंगा भेंट कर सम्मान करते हुए मुख्यमंत्री बघेल

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम में राजनांदगांव के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक शहीद वी.के. चौबे, शहीद मेजर सत्यप्रदीप दत्ता, शहीद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भास्कर दीवान, शहीद प्रधान आरक्षक हीरा सिंह निषाद, शहीद लेफ्टिनेंट पंकज विक्रम, शहीद निरीक्षक दुष्यंत सिंह, शहीद उपनिरीक्षक युगल किशोर वर्मा, शहीद सहायक उपनिरीक्षक कौशलेश सिंह, शहीद चिरंजीव बघेल, शहीद प्रधान आरक्षक संजय यादव, शहीद आरक्षक रामकुमार साहू, शहीद लेफ्टिनेंट अरविंद दीक्षित, शहीद आरक्षक वेदप्रकाश यादव, शहीद लेफ्टिनेंट राजीव पांडेय, शहीद प्रधान आरक्षक प्रफुल्ल शुक्ला, शहीद आरक्षक झाडूराम वर्मा, शहीद आरक्षक खिलानंद साहू और शहीद आरक्षक धनराज मोटघरे के परिजनों को सम्मानित किया।

कार्यक्रम में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, विधायक सत्यनाराण शर्मा, धनेन्द्र साहू, अमितेष शुक्ला, अनिता योगेन्द्र शर्मा, मेयर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा, सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, एसएसपी प्रशांत अग्रवाल उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: डारन बाई तारम के नाम से जाना जाएगा गुरुर का शासकीय महाविद्यालय

मुख्यमंत्री ने भगवान बिरसा मुंडा की आदमकद प्रतिमा का किया अनावरण

महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम ने दिखाई संवेदनशीलता, बिन माँ-बाप के बच्चाें के लिए महिला अधिकारी बनें सहारा

बी.एससी. एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों  में प्रवेश के लिए 15 अगस्त तक कर सकते हैं आवेदन 

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!