Homeराजनीतिउतई में मुख्यमंत्री ने की बड़ी घोषणा, 4 करोड़ की लागत से...

उतई में मुख्यमंत्री ने की बड़ी घोषणा, 4 करोड़ की लागत से मोरिद टैंक का होगा जीर्णाेद्धार, 2 करोड़ रुपए की लागत से बनेगा पालिका बाजार


दुर्ग @ news-36. उतई में आज समाज रत्न दाऊ उत्तम साव पुण्य स्मरण समारोह कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने क्षेत्र के विकास के लिए बड़ी घोषणाएं कीं। इनमें मोरिद टैंक के जीर्णाेद्धार की बड़ी घोषणा शामिल है। 4 करोड़ रुपए की लागत से होने वाले इस जीर्णाेद्धार कार्य से अब 240 हेक्टेयर खेतों तक पानी पहुँच पाएगा। साथ ही टैंक के जीर्णाेद्धार से पेयजल आपूर्ति की क्षमता में भी विस्तार होगा। स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर देने उतई के अस्पताल में क्षमता विस्तार किया जाएगा।

इसमें 10 बेड आक्सीजन बेड होंगे। उतई नगर में 2 करोड़ रुपए की लागत से पालिका बाजार बनेगा। इसके बनने से नागरिकों एवं व्यवसायियों को सुविधा हो सकेगी। नगर के पुराने शीतला तालाब का जीर्णाेद्धार एवं सौंदर्यीकरण भी होगा, इसके लिए भी 75 लाख रुपए देने की घोषणा मुख्यमंत्री ने की। इसके साथ ही जिला साहू समाज के भवन के लिए 40 लाख रुपए एवं 3 एकड़ जमीन देने की घोषणा भी मुख्यमंत्री ने की। उतई में भी स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की सुविधा होगी। इस मौके पर गृह एवं पीडब्ल्यूडी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने साहू समाज के विभूतियों का पुण्य स्मरण किया तथा कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में किया गया निवेश सबसे ज्यादा प्रभावी होता है। यही कारण है कि पाटन में हमारे पूर्वजों ने शिक्षा के प्रसार के लिए इतनी बड़ी संख्या में स्कूल खोले। साहू समाज जिस तरह से आगे बढ़ रहा है उसके पीछे समाज की शिक्षा को बढ़ावा देने की प्रखर सोच है। यह बात मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने उतई में आयोजित समाज रत्न दाऊ उत्तम साव पुण्य स्मरण समारोह में यह बातें कहीं। उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य किसी क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए दो सबसे बड़ी प्राथमिकता होती है। साहू समाज ने शिक्षा के क्षेत्र में अहम कार्य किया है। हमारी सरकार की सोच है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का लाभ सबको मिल सके। इसके लिए हमने स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल और स्वामी आत्मानंद हिंदी स्कूल के माध्यम से शिक्षा की बेहतरीन सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया।

हमारे बच्चे प्रतिभाशाली होने के बावजूद केवल अंग्रेजी में कमतरी की वजह से पीछे रह जाते थे। हमने निर्णय किया कि जो भी अंग्रेजी के रास्ते आगे बढ़ना चाहे, उसे किसी तरह की बाधा न पहुँचे। नजदीक में ही गुणवत्तापूर्ण स्कूल मिल जाए। इसके लिए पूरे प्रदेश भर में 177 स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल आरंभ किये गये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि गोधन की अनेक संभावना है और इस पर कार्य किया जा रहा है। इस मौके पर अपने संबोधन में पीडब्ल्यूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि शासन द्वारा क्षेत्र के विकास के लिए और यहाँ बुनियादी सुविधाओं तथा शिक्षा-स्वास्थ्य जैसी महत्वपूर्ण सुविधाओं के विस्तार के लिए जो पहल की जा रही है। उससे नागरिक आंकाक्षाओं की पूर्ति होगी और क्षेत्र तेजी से विकास की ओर अग्रसर होगा। इस मौके पर कृषि उपज मंडी दुर्ग के अध्यक्ष अश्विनी साहू एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular