Homeशिक्षाबच्चों ने मुख्यमंत्री से पूछा, हेलिकॉप्टर से कैसा दिखता है हमारा रामगढ़

बच्चों ने मुख्यमंत्री से पूछा, हेलिकॉप्टर से कैसा दिखता है हमारा रामगढ़

कोरिया. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र के वनांचल गांव के आदिवासी कन्या छात्रावास पहुंचे। जहां पढ़ने वाली शालिनी ने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि हमारा रामगढ़ हेलीकॉप्टर से कैसा दिखता है।

मुख्यमंत्री ने कहा बहुत सुंदर।मुख्यमंत्री के जवाब पर बच्चों ने जोरदार ताली बजाकर हर्षित हुए। मुख्यमंत्री और गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू आदिवासी कन्या आश्रम की बालिकाओं से रूबरू हुए और बच्चों के सवाल के जवाब भी दिए। दिव्या  ने मुख्यमंत्री को उनकी  बचपन की यादें साझा करने अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि उनका भी बचपन गांव में बिता है,खेलकूद, दौड़ भाग, गिल्ली डंडा उनका प्रिय खेल रहा।

जब शाम को देर से घर जाता था तो उन्हें भी डांट पड़ती थी। कभी कभी चरवाहा के साथ चला जाता था, आने पर डांट पड़ती थी। उन्होंने कहा कि उन्हें माँ के हाथ से बना गुलाब जामुन बहुत पसंद था। उन्होनें कहा कि वे घर के लाडले थे,उन्हें घर के सदस्यों का भरपूर प्यार मिला। इस दौरान उन्होंने कैरम खेल रही डिंपल माझी और शारदा का हौसला अफजाई की और शाबासी दी।

यह भी पढ़ें: मंगल भवन में 20 लाख की लागत से होगा लाइटिंग का काम, भवन आएगा शादी विवाह के काम

जब  छतीसगढ़ी कविता ने मुख्यमंत्री का मन मोह लिया

कक्षा 5 वी में पढ़ने वाली अनुराधा ने मुख्यमंत्री को कका आवत है हमर गांव,
जंगल पहाड़ सुघ्घर  गांव
कका हमर सबसे प्यारा
36गढ़ के राजदुलारा कविता सुनाई,जिससे सुनकर मुख्यमंत्री ने  शाबासी दी।

आश्रम परिसर में मुख्यमंत्री ने चंदन के पेड़ का रोपण किया। इस दौरान प्रभारी मंत्री एवं गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, सांसद ज्योत्सना महंत, विधायक गुलाब कमरों मौजूद थे

स्मार्ट क्लास के जरिये  गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा मिल रही है

विधानसभा क्षेत्र भरतपुर सोनहत के सुदूर वनांचल में बसे ग्राम रामगढ  में  इंटरनेट की सुविधा नही के बराबर है। लेकिन  यहाँ  स्मार्ट क्लास के जरिये बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण और रुचिकर शिक्षा प्राप्त हो रही है। ये संभव हो पाया है सरकार की सोच और अच्छी नियत से। आदिवासी बालिका छात्रावास की  कक्षा पहली से  छठवीं की 19 छात्राओं को प्रोजेक्टर के माध्यम से शैक्षणिक वीडियो आडियो विसुअल से  गुणवत्तायुक्त शिक्षा दी जा रही है। स्मार्ट क्लास  से बच्चों की पढ़ाई अब पहले से अधिक रुचिकर और प्रभावशाली हो गया है।

यह भी पढ़ें:पलायन न करें:जो काम करना चाहते हैं वे संगठित होकर आगे आएं, मिलेगा सबको काम- मुख्यमंत्री

विशेष पिछड़ी जनजाति के युवक-युवतियों को शासकीय नौकरी देने के लिए विभाग ने जारी किया आदेश

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!