Homeराज्यस्वामी आत्मानंद स्कूल के बच्चों को मिलेगी बस की सुविधा,सीएम ने कलेक्टर...

स्वामी आत्मानंद स्कूल के बच्चों को मिलेगी बस की सुविधा,सीएम ने कलेक्टर को दिए निर्देश

जशपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने फरसबहार विकासखण्ड में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत पमशाला में ईब नदी के तट पर स्थित कंवर समाज के मंदिर राधा कृष्ण मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ की। मुख्यमंत्री ने ईब नदी के तट पर आयोजित भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में ग्राम कोल्हेजहारिया में प्री एवं पोस्ट मैट्रिक छात्रावास पुलिस चौकी की स्थापना और तपकरा में नायब तहसीलदार कोर्ट की घोषणा की। उन्होंने फरसाबहार के हाथी प्रभावित क्षेत्र में हाई मास्ट लाइट लगाने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने तपकरा में स्वामी आत्मानंद स्कूल खोलने, फरसाबहार में सहकारी बैंक प्रारंभ करने, पमशाला के हाई स्कूल को हायर सेकेंडरी में उन्नयन, फरसाबहार में 67 स्थानों पर देवगुड़ी के सौंदर्यीकरण के लिए दो करोड़ की स्वीकृति की घोषणा की। पमशाला पहुंचने पर वहां मुख्यमंत्री का स्वागत पगड़ी और साफा पहनाकर किया गया।

chhattisgarh
श्रीराधाकृष्ण की पूजा अर्चना करते हुए मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने परमशाला में छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा-अर्चना कर भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में किसानों और ग्रामीणों से शासकीय योजनाओं की मैदानी स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से हाट बाजार क्लिनिक योजना का लाभ उठाने की अपील की। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लघुवनोपजों की खरीदी और वेल्यू एडिशन को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। इसका लाभ भी वनवासियों को मिल रहा है।

सबसे पहले जशपुर से ही महुआ से सेनेटाईजर बनाया गया। कार्यक्रम में सितरेंगा के रजनी कुजूर ने बताया कि उन्होंने राशन कार्ड के लिए आवेदन किया है। मुख्यमंत्री ने जल्द ही राशनकार्ड बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। साजबहार के दीपक ने वन अधिकार पट्टा की मांग की। मुख्यमंत्री ने इस पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

स्कूली बच्चों को जल्द ही बस की सुविधा

स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल फरसाबहार के बच्चों को स्कूल आने-जाने के लिए जल्द ही बस की सुविधा मिलेगी। बच्चों ने बताया कि उन्हें स्कूल आने जाने में काफी परेशानी होती है। जिस पर मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को बच्चों के लिए बस की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने स्वामी आत्मानंद स्कूल के बच्चों से स्कूल की गतिविधियों और पढ़ाई-लिखाई की जानकारी ली। फरसाबहार आत्मानन्द स्कूल के छात्र नूतन कुमार ने बताया कि स्कूल में पढाई अच्छी होती है।

किसान अर्जुन दीवान के घर किया भोजन

chhattisgarh
किसान अर्जुन से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने भेंट मुलाकात के प्रदेशब्यापी कार्यक्रम के  दौरान जशपुर जिले के दुलदुला विकाशखण्ड के ग्राम पतराटोली में किसान अर्जुन सिंह दीवान के घर दोपहर का भोजन किया।भोजन में उन्होंने स्थानीय कटहल की सब्जी, आमटी भाजी, बैंग भाजी,कुल्थी की दाल, कोयनार,सुनसुनिया भाजी, महुआ गुड़ा, मुनगा भाजी,साखी कांदा,अरसा और आलू बड़ी, मडुवा हलुवा और महुवा गुडा का लिया स्वाद लिया। इस अवसर पर कुनकुरी विधायक यू. डी. मिंज भी मुख्यमंत्री के साथ थे।

 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि गांव के किसान के घर खाना खाकर जो आनंद की अनुभूति हुई वो किसी रेस्टोरेंट में खाकर भी नहीं आता। शुद्ध देशी और छतीसगढिया खाना का यह स्वाद हमेशा याद रहेगा। घर आगमन पर घर के सदस्यों ने मुख्यमंत्री का परम्परागत तरीके से आत्मीय स्वागत किया।80 वर्षीय किसान अर्जुन सिंह मुख्यमंत्री के साथ भोजन कर बेहद खुश है। उन्होंने कहा कि यह मेरा और परिवार का सौभाग्य है कि मुख्यमंत्री आज मेरे घर भोजन पर आए। वहीं मुख्यमंत्री ने घर के सदस्यों को उपहार भी भेंट किया।

यह भी पढ़ें : ब्रेकिंग: स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम के 76 और नए स्कूलों में 1 जुलाई से होगा प्रवेश

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!