HomeEntertainmentCrimeChitfund:शुष्क इंडिया कंपनी के निवेशकों को मिलेगी राशि, शासन ने उनकी संपत्तियों...

Chitfund:शुष्क इंडिया कंपनी के निवेशकों को मिलेगी राशि, शासन ने उनकी संपत्तियों को नीलाम कर जुटाए 2.56 करोड़

दुर्ग.चिटफंड शुष्क इंडिया कंपनी के निवेशकों के लिए अच्छी खबर है। शासन ने चिटफंड कंपनियों के स्वामित्व की संपत्ति को नीलाम करने से जो राशि प्राप्त हुई है, उसे निवेशकों को लौटाने का निर्णय लिया है। शासन के निर्णय के अनुसार दुर्ग जिला प्रशासन बहुत जल्द शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट चिटफंड कंपनी के निवेशकों को राशि लौटाने की प्रक्रिया शुरू करेंगी।

पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि चिटफंड शुष्क इंडिया कंपनी के स्वामित्व की संपत्ति को नीलाम करने से कुल 2.56 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। इसमें से महासमुंदर और बलौदाबाजार जिला कलेक्टर से संपत्ति की नीलामी की राशि प्राप्त हो चुकी है। रायपुर जिले की प्रापर्टी की 30 जुलाई को नीलामी हुई है। कलेक्टर से राशि प्राप्त हो जाने के बाद मुख्यमंत्री एवं छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार निवेशकों को राशि लौटाई जाएंगी।

कंपनी के 8 डायरेक्टर जेल में 

एएसपी संजय ध्रुव ने बताया कि शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट चिटफंड कंपनी के 08 डॉयरेक्टर/पदाधिकारियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। कंपनी के गिरफ्तार डॉयरक्टर्स के स्वामित्व की जिला रायपुर अंतर्गत ग्राम अभनपुर एवं छाछनपैरी, जिला महासमुंद अंतर्गत ग्राम मोरधा, जिला बलौदाबाजार के ग्राम बलौदाबाजार में स्थित संपत्तियों को चिहिन्त किया गया। 16 मार्च 2017 को कुर्की के लिए अंतरिम आदेश जारी करने के संबंध में जिला दण्डाधिकारी जिला-दुर्ग को प्रतिवेदन प्रस्तुत की गई।

2,56,85,102 रुपए प्राप्त हुई है नीलामी से

जिला दण्डाधिकारी ने जांच/सुनवाई के बाद 26 अक्टूबर 2017 को शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट कंपनी के गिरफ्तार डॉयरेक्टर्स की चिहिन्त उपरोक्त संपत्तियों को कुर्की करने के लिए अंतरिम आदेश जारी करने के लिए प्रकरण को विशेष न्यायालय जिला-दुर्ग की ओर प्रेषित की गई थी। 8 अप्रेल 2019 को न्यायालय ने चिहिन्त संपत्ति को कुर्की करने किे लिए अंतिम आदेश पारित किया। न्यायालय के आदेशानुसार संपत्तियों की नीलामी की गई। जिससे कुल 2,56,85,102 रुपए प्राप्त हुई है। इस राशि को निवेशकों को लौटाई जाएंगी।

संतोष सोनी ने 2016 में की थी शिकायत

शंकर नगर दुर्ग निवासी संतोष सोनी पिता श्याम लाल 40 वर्ष की शिकायत पर मोहन नगर पुलिस ने 6 अप्रेल 2016 कोचिटफंड कंपनी शुष्क इंडिया लिमिटेड कपंनी रजि. म.प्र./छ.ग.के डॉयरेक्टर एवं पदाधिकारियों के खिलाफ धारा 420,406,120 बी 34 भादवि एवं छ.ग. के निक्षेपकों का संरक्षण अधिनियम 2005 की धारा 10 के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया और शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट कंपनी के 08 डॉयरेक्टर एवं पदाधिकारियों की गिरफ्तारी कर जेल भेजा गया।

6 साल में राशि दुगुना करने का दिया था लालच

शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट कंपनी उज्जैन (म.प्र) से संचालित हो रहा था। कंपनी ने निवेशकों को 6 वर्ष में राशि दुगुना देने का लालच देकर एजेंट्स के माध्यम से राशि जमा करवाया था।

संपत्तियों नीलामी से प्राप्त हुई राशि

जिला महासमुंद द्वारा कंपनी के स्वामित्व की संपत्ति नीलामी कर 18,85,102 रुपए और जिला बलौदाबाजार द्वारा कंपनी के स्वामित्व की संपत्ति को नीलामी कर 28,00,000 रुपए प्राप्त हुई। कलेक्टर ने कुल 46,85,102 रुपए कलेक्टर जिला दुर्ग की ओर चेक के माध्यम से प्रेषित की गई।

रायपुर कलेक्टर ने 30 जुलाई को कंपनी के स्वामित्व के ग्राम अभनपुर एवं छाछनपैरी स्थित संपत्ति की नीलामी की कार्यवाही की गई। जिससे नीलामी से 2,10,00,000 (दो करोड दस लाख रुपए) मिले।

इस प्रकार शुष्क इंडिया एवं साइनिंग स्टार इंफ्रास्टेट कंपनी के स्वामित्व की संपत्तियों की नीलामी से कुल 2,56,85,102 (दो करोड़ छप्पन लाख पचयासी लाख एक सौ दो रुपए) प्राप्त हुए है।

जिला कलेक्टर रायपुर से नीलामी राशि प्राप्त होते ही कंपनी में निवेश किये गये निवेशकों को राशि वितरण की कार्यवाही जिला प्रशासन द्वारा की जाएंगी।

यह भी पढ़ें: हत्या के आरोपी भिलाई से गिरफ्तार, बिहार पुलिस ने घोषित कर रखा था 50 हजार का इनाम

राष्ट्रीय विधि विवि के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए चीफ जस्टिस एन.वी.रमना ने छत्तीसगढ़ मॉडल की सराहना की

यात्रीगण ध्यान दें: एक माह के लिए 23 पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन बंद, छत्तीसगढ़ सरकार ने रेलवे बाेर्ड को लिखा पत्र

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!