HomeAdministrationकलेक्टर ने धान खरीदी की समीक्षा की, खरीदी केन्द्रों में पर्याप्त बारदाने...

कलेक्टर ने धान खरीदी की समीक्षा की, खरीदी केन्द्रों में पर्याप्त बारदाने रखने के दिए निर्देश

दुर्ग. जिले में एक नवंबर से शुरू हुई धान खरीदी के माध्यम से अब तक दस हजार मीट्रिक टन से अधिक धान खरीदी हो चुकी है। खरीदी की व्यवस्था बढ़िया हो, इसके लिए लगातार मानिटरिंग की जा रही है। आज कलेक्टर श्री पुष्पेंद्र कुमार मीणा ने धान खरीदी की स्थिति की समीक्षा की।

अधिकारियों ने बताया कि 94 धान खरीदी केंद्रों में 90 केंद्रों में किसान धान बेचने पहुंच चुके हैं। शेष चार केंद्रों में भी खरीदी की पूरी व्यवस्था है अभी किसानों ने यहां टोकन नहीं लिया है। बुधवार तक 3109 किसान धान बेच चुके थे और इनका 10 हजार 269 मीट्रिक टन धान खरीदा जा चुका है। इसका परिवहन भी आरंभ कर दिया गया है। कलेक्टर ने शीघ्र उठाव आरंभ करने को लेकर खाद्य विभाग के अधिकारियों की प्रशंसा भी की। उन्होंने कहा कि इसी तरह से बढ़िया व्यवस्था रखिये। बारदानों की पर्याप्त व्यवस्था हो। समय पर उठाव होता रहे। अधिकारियों ने बताया कि हर दिन हो रही धान खरीदी के आधार पर बारदाने की व्यवस्था पर समीक्षा की जाती है।

जिले में पर्याप्त बारदाने का प्रबंध कर लिया गया है और किसी तरह की दिक्कत नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि सभी धान खरीदी केंद्रों में बारदाने भिजवा दिये गये हैं। कलेक्टर ने कहा कि इस बार धान की फसल और भी बेहतर हुई है और सरकार की कृषि हितैषी योजनाओं की वजह से किसान खेती किसानी की ओर लौट रहे हैं इसके चलते धान खरीदी केंद्रों में पिछले साल से भी ज्यादा धान आने की संभावना है। चूंकि सरकार ने पहले से ही खरीदी आरंभ कर दी है अतएव पर्याप्त समय मिलने से धान खरीदी केंद्रों के प्रबंधकों को भी दबाव नहीं रहेगा और किसान भी सुविधाजनक ढंग से अपनी फसल बेच सकेंगे। कलेक्टर ने कहा कि बारदानों की स्थिति और उठाव पर नजर रखनी है।

किसानों को किसी तरह की दिक्कत न हो, इसका पूरा ध्यान रखना है। खरीदी केंद्रों में बुनियादी सुविधाएं सुनिश्चित होना चाहिए। उन्होंने टोकन तुंहर हाथ के माध्यम से टोकन लेने वाले किसानों के बारे में भी पूछा। अधिकारियों ने बताया कि किसान इसके माध्यम से भी टोकन ले रहे हैं। कलेक्टर ने कहा कि धान खरीदी से संबंधित किसी भी प्रकार की तकनीकी समस्या आने पर तुरंत विभागीय समन्वय के माध्यम से इसे निराकृत करें। धान खरीदी की व्यवस्था जिले में बढ़िया हो, इस पर सर्वाेच्च प्राथमिकता से कार्य करना है। बैठक में खाद्य नियंत्रक श्री दीपांकर, सीईओ अपेक्स बैंक श्रीमती अपेक्षा व्यास, डीआर कोआपरेटिव श्री आशुतोष डडसेना, डीएमओ श्री भौमिक बघेल, प्रबंधक नान श्री आकाश राही उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!