Homeनिकायभिलाई में उल्टी दस्त की शिकायत, दो की मौत

भिलाई में उल्टी दस्त की शिकायत, दो की मौत

भिलाई. ठंड के साथ लोगों में उल्टी दस्त की शिकायत बढ़ गई है। वहीं नगर पालिक निगम के कैंप क्षेत्र में डायरिया की शिकायत भी सामने आई है। उल्टी दस्त से पीड़ित एक युवक और बच्ची ने दम तोड़ दिया है। बताया जा रहा है कि वार्ड 32 बैकुंठधाम में बड़ी संख्या में लोग प्रभावित हुए हैं। वे लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल सुपेला और बीएम शाह अस्पताल में भर्ती है। जहां उनका इलाज चल रहा है।

जानकारी के अनुसार वार्ड 32 बैकुंठधाम का रहने वाले युवक कुश डहरे और वार्ड 31 मदर टेरेसा नगर की रहने वाली बच्ची की उल्टी दस्त की शिकायत की थी। आज उनकी मौत हो गई है। बच्ची की तबियत ज्यादा बिगड़ने पर बीएम शाह अस्पताल ले जाया जा रहा था और अस्पताल पहुंचने से पहले ही बच्ची ने दम तोड़ दिया।

मृतक कुश डहरे शासकीय लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भर्ती था। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। मृतक कुश मजदूरी करता था। उनकी तीन बेटियां है। उल्टी दस्त की  शिकायत बढ़ने पर लोगों ने जानकारी पार्षद लक्ष्मी धर्मेन्द्र दिवाकर को दिया था, लेकिन उन्होंने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। इसके बाद मामला बढ़ता चला गया7

यह भी पढ़ें:फिल्म निर्माता ने सनी देओल पर लगाए गंभीर आरोप

बताया जा रहा है दो दिन पहले उल्टी दस्त की शिकायत सामने आई थी। महिला आरोग्य समिति और मितानिनों ने इसकी जानकारी जिला स्वास्थ्य विभाग को दी थी। इसके बाद से टीम ने जांच पड़ताल शुरू कर दिया था और आज सुबह 18-19 केस सामने आए तो निगम आयुक्त रोहित व्यास, सीएचएमओ डॉ जेपी मेश्राम और नगर पालिक निगम के स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेन्द्र मिश्रा और स्वास्थ्य विभाग का अमला मौके पर पहुंचे और डोर टू डोर सर्वे कर पीड़ितों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। क्लोरीन टेबलेट,ओरआरएस का पैकेट प्रदान किया गया।

देश :फिल्म निर्माता ने सनी देओल पर लगाए गंभीर आरोप:जी-20 देशों में भारत को सर्वश्रेष्ठ स्थान मिला

राज्य: बने करेस सरकार अब तो घर बैठे इलाज अऊ फोकट में दवाई भी मिल जथे

पानी की जांच में मिला बैक्टीरिया 

जानकारी के अनुसार मदर टेरेसा नगर पानी टंकी से कैंप क्षेत्र के जिन वार्डों में पानी सप्लाई होता है, निगम की टीम ने उन वार्डों के पानी का सैंपल लिया है। 77 एमएलडी फिल्टर प्लांट में पानी की जांच की गई। जिसमें बैक्टीरिया होने की जानकारी सामने आई है। हालांकि इस रिपोर्ट निगम प्रशासन ने पुष्टि नहीं किया है।

 

उल्टी एवं दस्त संक्रमित क्षेत्रों के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा कॉम्बैट टीम गठित

शहरी खंड चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि शहरी क्षेत्र में कुल 48 प्रकरण पाए गए हैं, जिसमें विन्दानगर में 17, जेपी नगर में 16, संतोषी पारा में 2 अन्य आंकड़ों में 5 मरीजों का इलाज घर पर चल रहा है और 5 मरीज बीमारी से रिकवर कर गए हैं। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बैकुंठ धाम, सिविल अस्पताल सुपेला भिलाई, एसएस हॉस्पिटल भिलाई, जिला चिकित्सालय दुर्ग, स्पर्श हॉस्पिटल भिलाई, अंबे हॉस्पिटल पावर हाउस और बीएम शाह हॉस्पिटल भिलाई में वर्तमान में कुल 42 मरीज भर्ती हैं।

जिला प्रशासन मुस्तैदी के साथ इसकी रोकथाम की दिशा में सकारात्मक कदम उठा रहा है। कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा के मार्गदर्शन में नगर निगम व स्वास्थ्य विभाग आपसी समन्वय स्थापित कर संक्रमित क्षेत्रों का चिन्हांकन कर रहे हैं और इसकी रोकथाम के लिए उचित प्रबंधन नीति पर कार्य कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमित क्षेत्रों में स्क्रीनिंग करने के लिए सुपरवाईजर, मितानिन व कॉम्बैट टीम का गठन कर किया गया है।इसके अलावा क्षेत्र के आसपास के अस्पतालों को भी संक्रमण के संबंध में जानकारी उपलब्ध करा दी गई है ताकि वह बेहतर से बेहतर प्रबंधन आने वाले मरीजों को उपलब्ध करा सकें।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!