HomeAdministrationब्रेकिंग: न्यायालय ने अधिक कीमत पर मास्क बेचने वाले अपोलो फार्मेसी पर...

ब्रेकिंग: न्यायालय ने अधिक कीमत पर मास्क बेचने वाले अपोलो फार्मेसी पर लगाया जुर्माना

दुर्ग.अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी ने कोरोना काल में अधिसूचित कीमत से अधिक कीमत पर मास्क बेचने वाले नेहरू नगर स्थित अपोलो फार्मेसी के खिलाफ जुर्माना लगाया है। न्यायालय ने अपोलो फार्मेसी नेहरू नगर पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है।

मामला 2020 का
मामला अप्रैल 2020 का है। कोरोना काल में जांच के दौरान औषधि निरीक्षक ब्रजराज सिंह ने अपोलो फ़ार्मेसी, नेहरु नगर को अधिसूचित कीमत से अधिक कीमत पर मास्क को बेचते हुए पाया था। औषधि निरीक्षक ब्रजराज सिंह ने आवश्यक वस्तु अधिनियम, 1955 के तहत कार्यवाही करते हुए फ़ार्मेसी के बीजक और मास्क की जब्त कर प्रकरण को जिला दण्डाधिकारी के न्यायालय में प्रस्तुत किया था। सुनवाई के दौरान अपोलो फ़ार्मेसी ने अपनी गलती स्वीकार की। न्यायालय ने कोरोना काल में अधिसूचित कीमत से अधिक कीमत पर मास्क बेचने के दोषी पाया। अपोलो फ़ार्मेसी पर दस हज़ार रुपये का जुर्मना लगाया एवं कड़ी चेतावनी दी।

जिनोटा फार्मेसी पर भी 10 हजार का जुर्माना

इसी प्रकार कोरोना काल में ही नेहरू नगर पश्चिम में संचालित जिनोटा रेमेडीज पर भी 10 हजार का जुर्माना लगाया है।  औषधि निरीक्षक ब्रजराज सिंह ने इसे भी अधिक कीमत पर मास्क बेचते हुए पकड़ा था। इस प्रकरण में भी न्यायालय ने दस हज़ार का जुर्माना अगस्त 2021 में लगाया गया था।

खंडेलवाल प्लास्टिक 
कोरोना काल में हार्ड वेयर लाईन सुपेला में संचालित खंडेलवाल प्लास्टिक के खिलाफ भी जुर्माना की कार्रवाई की गई है। उन्हें भी अधिसूचित कीमत से अधिक कीमत पर सेनेटाईजर को बेचते हुए पकड़ा था। इस प्रकरण में न्यायालय ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद अगस्त 2021 में 10 हजार जुर्माना लगाया था।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति चुनाव की तारीख का ऐलान: बैलेट पेपर से 18 जुलाई को होगा मतदान, 21को आएंगे नतीजे

ग्राहक सेवा केन्द्र में फर्जीवाड़ा: फिक्स डिपाजिट के पैसे डकार गए संचालक

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!