HomeAdministrationडिजिटल सिग्नेचर का दुरुपयोग करने वाले डाटा एंट्री ऑपरेटर बर्खास्त

डिजिटल सिग्नेचर का दुरुपयोग करने वाले डाटा एंट्री ऑपरेटर बर्खास्त

रायपुर. ग्राम पंचायतों के डिजिटल सिग्नेचर को अवैधानिक रूप से अपने पास रखने और उसका आप्राधिकृत उपयोग करने के मामले में डाटा एंट्री ऑपरेटर भागीराम सोरी को सेवा से बर्खास्त कर दिया है। कोण्डागांव जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने यह कार्रवाई की है।

भागीराम सोरी जनपद पंचायत संसाधन केन्द्र माकड़ी में संविदा के रूप में पदस्थ डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद पर सेवाएं दे रहा था। उन्होंने 9 ग्राम पंचायतों के डिजिटल सिग्नेचर को अवैधानिक रूप से अपने पास रखा था और उसका आप्राधिकृत उपयोग करता था। शिकायत को गंभीरता से लिया गया है।

बता दें कि 13 जुलाई को जनपद पंचायत माकड़ी के निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत कोण्डागांव के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने डाटा एंट्री ऑपरेटर भागीराम सोरी द्वारा 9 ग्राम पंचायतों के डीएससी (डिजिटल सिग्नेचर) को अवैधानिक रूप से अपने पास रखने और आप्राधिकृत रूप से उसका उपयोग किए जाने का मामला पकड़ा था। इस दौरान कार्यालय में मौजूद अधिकारियों कर्मचारियों के बयान भी दर्ज किए गए। वित्तीय लेनदेन से संबंधित इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला पंचायत कोण्डागांव के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने डाटा एंट्री ऑपरेटर श्री सोरी को तत्काल प्रभाव से सेवा समाप्त किए जाने का आदेश जारी किया है।

सतर्कता बरतने के निर्देश

डाटा एंट्री ऑपरेटर सोरी ने 9 ग्राम पंचायतों के डीएससी को संबंधित ग्राम पंचायतों को वापस कर दिया गया है। राज्य में डिजिटल सिग्नेचर का कहीं भी किसी भी स्थिति में आप्राधिकृत उपयोग न हो इसको लेकर सभी जिम्मेदार अधिकारियों को सतर्कता बरतने और ऐसे मामलों में दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: बिना पंजीयन के संचालित अस्पताल और नर्सिंग होम के खिलाफ कार्रवाई, क्लीनिक सील

केबिनेट मीटिंग: सिटी बसों के रोड टैक्स में छूट ,आरक्षकों को नियमित वेतनमान समेत कई महत्वपूर्ण निर्णय

अम्बिकापुर से हजरत निज़ामुद्दीन के बीच साप्ताहिक एक्सप्रेस शुरू

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!