Homeधर्म-समाजश्रद्धालु घर बैठे करें बाबा बर्फानी के दर्शन,ऑनलाइन मंगवा सकेंगे प्रसाद, बुकिंग...

श्रद्धालु घर बैठे करें बाबा बर्फानी के दर्शन,ऑनलाइन मंगवा सकेंगे प्रसाद, बुकिंग के लिए ये है प्रोसेस

नई दिल्ली. बाबा बर्फानी के दर्शन अब श्रद्धालु घर बैठे कर सकेंगे। ऑनलाइन हवन पूजा भी कर सकेंगे।ऑनलाइन प्रसाद भी मंगवा सकेंगे। श्रीअमरनाथ श्राइन बोर्ड ने भक्तों की सहूलियत और बेहतर अनुभव देने के लिए ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की है। पुजारी इसे भक्त के नाम से पवित्र गुफा में प्रसाद एवं पूजा की सामाग्री चढ़ाएंगे।

श्रीअमरनाथ श्राइन बोर्ड के सीईओ नितीश्वर कुमार ने बताया कि ऑनलाइन सेवाओं का बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट से संबंधित एप्लिकेशन से लिंक करके लाभ लिया जा सकता है। भक्त 1100 रुपये देकर वर्चुअल पूजा में शामिल हो सकते हैं। इसी तरह 1100 रुपये में प्रसाद बुकिंग में श्री अमरनाथ जी का पांच ग्राम का चांदी का सिक्का, 2100 रुपये में प्रसाद बुकिंग में 10 ग्राम चांदी का सिक्का और 5100 रुपये में विशेष हवन या प्रसाद व वर्चुअल पूजा का कंबिनेशन मिलेगा।

पूजा या हवन पुजारी द्वारा पवित्र गुफा में वैदिक मंत्रों, श्लोकों के जाप के साथ भक्त के नाम और गोत्र का उच्चारण करके किया जाएगा। उपलब्ध प्रौद्योगिकी और डिजिटलीकरण के उपयोग को बढ़ाते हुए भक्त को जियो मीट एप के माध्यम से एक वर्चुअल ऑनलाइन रूम में भेजा जाएगा, जिसमें वह भगवान शिव की विशेष पूजा और दर्शन कर सकते हैं। इसके साथ 48 घंटे के भीतर प्रसाद को डाक विभाग के माध्यम से भक्त के घर तक पहुंचा दिया जाएगा।

यह भी पढे़: जन-जन को भाजपा से जोड़ने के लिए चलाएंगे ‘हर घर तिरंगा’ अभियान

नुपूर के समर्थन में पोस्ट करने वाले युवक को धमकी देने वाले आरोपी गिरफ्तार

बुकिंग के बाद बोर्ड पंजीकृत मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी पर लिंक और तारीख/समय साझा करेगा। इस पोर्टल को श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड द्वारा राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र जम्मू-कश्मीर की मदद से विकसित किया गया है।

यह भी पढ़ें:चीफ जस्टिस गोस्वामी ने न्यायालय परिसर की समस्याओं का जल्द निराकरण का दिया आश्वासन

छत्तीसगढ़ पावर लिफ्टिंग एसोसिएशन के पदाधिकारियों और खिलाड़ियों ने मुख्यमंत्री का जताया आभार

‘हमर लैब’ बना देश के लिए मॉडल, कार्य प्रणाली को समझने अन्य राज्यों की टीम आ रही है छत्तीसगढ़

देखें अमरनाथ यात्रा का वीडियो

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!