HomeUncategorizedअपनी निजी जानकारी सोशल मीडिया पर न करें शेयर- एसपी डॉ अभिषेक...

अपनी निजी जानकारी सोशल मीडिया पर न करें शेयर- एसपी डॉ अभिषेक पल्लव

  • पुलिस ने नर्सिंग के छात्र-छात्राओं को यातायात जागरूकता कार्यक्रम के तहत दिया प्रशिक्षण
  • साइबर अपराध एवं महिला सुरक्षा संबंधी कार्यक्रम के बारे में दी गई जानकारी 

दुर्ग. श्री शंकराचार्य नर्सिग कॉलेज हुडको में यातायात जागरूकता एवं साइबर अपराध से बचने के उपाय तथा महिला सुरक्षा से संबंधित एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया जिसमें कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ. अभिषेक पल्लव, पुलिस अधीक्षक, दुर्ग एवं श्री विश्वास चन्द्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (यातायात) उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरूआत में सर्व प्रथम श्रीमती शिल्पा साहू ,उप पुलिस अधीक्षक, (आईसीयूएडब्ल्यू) के द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित कुल-450 छात्र/छात्राओं को महिला सुरक्षा संबंधी अपराध से बचाव हेतु तथा कानून में महिलाओं को प्राप्त संरक्षण की जानकारी दी गई साथ ही दुर्ग पुलिस द्वारा बनाये गये एप्लीकेशन ‘‘अभिव्यक्ति’’ को उपस्थित सभी छात्राओं को मोबाईल में डाउनलोड कराया गया एवं यह ऐप्स से महिला सुरक्षा संबंधी लाभ की जानकारी दी गई। यह एप्लीकेशन आपके मुसीबत में किस प्रकार हेल्प करता है इसके बारे विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।

तत्पश्चात यातायात नियमों के प्रति जागरूक करते हुए श्री गुरजीत सिंह, उप पुलिस अधीक्षक (यातायात) के द्वारा यातायात नियमों के बारे में पैदल चलने के नियम, दो पहिया वाहन चालन के पूर्व एवं बाद की सावधानियां, रोड मार्किंग, संकेत बोर्ड तथा गुडसेमेरिटन के महत्व को उजागर करते हुए विस्तृत जानकारी कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगो को प्रदान की गई तथा कार्यक्रम में उपस्थित छात्र/छात्राओं से यातायात नियम संबंधी प्रश्न भी पूछे गये सही उत्तर बताने वाले छात्र/छात्राओं को पुरूस्कार देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान श्री नसर सिद्धीकी, उप पुलिस अधीक्षक(क्राईम) एवं निरीक्षक संतोष मिश्रा, के द्वारा सायबर अपराध से बचने के लिए पासवर्ड संबंधी, ओटीपी, अपनी निजी जानकारी फेसबुक वाट्सअप एवं सोशल साईड मंे पोस्ट करने से बचे, ओएलएक्स एवं ऑन लाईन शॉपिंग लिंक से होने वाली ठग्गी के बारे में जानकारी दी गई।

आज के इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित डॉ. अभिषेक पल्लव, पुलिस अधीक्षक दुर्ग के द्वारा छात्र/छात्राओं एवं शिक्षकगण से कहा गया कि सोशल साईड में दिये गये लिंक पर कभी भी विश्वास न करें तथा अपने निजी जानकारी फेसबुक पर कदापि साझा न करे तथा किसी भी प्रकार के कॉल पर विश्वास न करे इन सभी बातो को ध्यान में रखने से आप साइबर ठग्गी से बच सकते है एवं सड़क दुर्घटना से बचने के लिए दो पहिया वाहन में सदैव हेलमेट का उपयोग करें हेलमेट का उपयोग करने से किसी कारणवश यदि आप सड़क दुर्घटना का शिकार होते है तो आप एक गंभीर चोट से बच सकते है और छात्रो के साथ साथ छात्राओं को भी वाहन चलाते समय हेलमेट का उपयोग करने कहा गया। समय बचाने के चक्कर में हम वाहन तेज चलाते है और अपनी जान को जोखिम में डालते है ऐसा हमें तदापि नहीं करना चाहिए साथ ही अपने भविष्य के लिए एक निश्चित लक्ष्य बनाकर मेहनत करें ताकि आने वाले समय में आप अपने सपने को साकार कर सकें ।

कार्यक्रम के दौरान डॉ. दीपक शर्मा,( कोषाध्यक्ष श्री गंगाजल एजुकेशन सोसायटी), प्राचार्य, डॉ. वीना राजपूत, उप प्राचार्य डॉ. रवीना देथे, सउनि संगीता व रक्षा टीम एवं आरक्षक जावेद, आरक्षक सुरेश चौबे, साईबर सेल तथा आरक्षक तिलक साहू, मिथलेश देवांगन, यातायात पुलिस एवं शिक्षकगण उपस्थित रहें।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!