Homeस्वास्थ्यआरओ एवं खराब वाटर कूलर का पानी पीने से रस्तोगी नर्सिंग कॉलेज...

आरओ एवं खराब वाटर कूलर का पानी पीने से रस्तोगी नर्सिंग कॉलेज की छात्राएं बीमार, 39 अस्पताल में भर्ती, एक छात्रा की मौत

चार दिन से चल रहा था मामला, महापौर नीरज पाल ने दिए मामले की जांच कराने के निर्देश

भिलाई.आरओ एवं खराब वाटर कूलर का पानी पीने की वजह से रस्तोगी नर्सिंग कॉलेज की 39 छात्राओं की तबीयत खराब हुईं है। वहीं एक छात्रा की मौत हो गई। उल्टी दस्त की शिकायत के बाद नेहरू नगर के हाइटेक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। छात्राओं की तबीयत ठीक नहीं है।

रस्तोगी कॉलेज में आवासीय छात्रावास में कुछ छात्राओं की उल्टी दस्त होने की शिकायत के बाद हाईटेक अस्पताल में भर्ती होने की सूचना मिलने पर महापौर नीरज पाल अस्पताल पहुंचे और छात्राओं से चर्चा कर स्थिति की जानकारी ली।दुर्ग कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा से बात की और मामले की जांच कराने की बात कही है। नीरज पाल ने निगम आयुक्त को निर्देश दिया है कि वे खुद मामले की जांच कराएं और गलती पाए जाने प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

इसके बाद कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा एवं एसपी डॉ अभिषेक पल्लव हाइटेक हॉस्पिटल पहुंचे। इससे पूर्व अस्पताल प्रबंधन ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को इसकी जानकारी दी थी एवं उनकी टीम ने भी मौके पर पहुंच कर छात्राओं की तबीयत की स्थिति जानी थी।

कलेक्टर पुष्पेंद्र मीणा ने हॉस्पिटल में व्यवस्थाओं की जांच के निर्देश दिए थे। प्रारंभिक जांच में पाया गया कि वाटर कूलर और आरओ खराब स्थिति में थे जिसकी वजह से पानी खराब था और छात्राओं की तबीयत खराब हुई। जांच में पाया गया कि पानी खराब होने की वजह से छात्राओं की तबीयत खराब हुई। कलेक्टर ने बताया कि इस संबंध में हॉस्टल प्रबंधन की लापरवाही सामने आई है। एक छात्रा की मृत्यु भी हुई है। इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

नेहरू नगर में संचालित रस्तोगी नर्सिंग कॉलेज 300 छात्राएं माडल टाउन स्थित हॉस्टल में रहकर एएनएम और नर्सिंग की पढ़ाई करती हैं। 4 दिन पहले कुछ छात्राओं को फूड पॉइजनिंग की शिकायत हुई थी। प्रबंधन ने उन्हें उपचार के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया। इसके बाद एक-एक कर और भी छात्राओं की तबीयत बिगड़ती चली गई। अब 46 छात्राओं की हालत गंभीर है, जबकि 13 अन्य ही हालत ठीक है।

मृतक छात्रा बालोद की रहने वाली

मृतक छात्रा कामिनी बालोद की रहने वाली है। छात्रा की मौत के बाद ही मामला खुला और खबर आग की तरह शहर में फैल गया।

यह भी पढ़ें: कॉमनवेल्थ गेम्स: वेटलिफ्टिंग में अचिंता शेउली ने जीता स्वर्ण पदक,मेंस हॉकी में मुकाबला हुआ ड्रॉ

छत्तीसगढ़ की संस्कृति को विश्व के मानचित्र पर लाना है- मुख्यमंत्री बघेल

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!