Homeस्वास्थ्यप्रदेश के इन दो जिलों में खोले जाएंगे नए लैब, स्वास्थ्य मंत्री...

प्रदेश के इन दो जिलों में खोले जाएंगे नए लैब, स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने वायरोलॉजी लैब के लोकार्पण पर दी जानकारी

रायपुर @ news-36. स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव ने वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से आज कांकेर और महासमुंद में नवनिर्मित वायरोलॉजी लैब का शुभारंभ किया। मंत्री ने लैब की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि, छत्तीसगढ़ कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में मजबूती से आगे बढ़ रहा है।
प्रदेश में कोरोना संक्रमण की शुरूआत के समय एक भी वायरोलॉजी लैब नहीं था। एम्स रायपुर के बाद प्रदेश के सभी छह शासकीय मेडिकल कॉलेजों रायपुर, बिलासपुर, जगदलपुर, राजनांदगांव, रायगढ़ और अंबिकापुर में आरटीपीसीआर जांच की सुविधा विकसित की गई है। आज प्रदेश के दो नए मेडिकल कॉलेज कांकेर और महासमुंद में भी वायरोलॉजी लैब की शुरूआत हो रही है। इन नई सुविधाओं से प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की पहचान और उन्हें समय पर उपचार उपलब्ध कराने में तेजी आएगी।

बालोद और मुंगेली में भी वायरोलॉजी लैब
मंत्री ने कहा कि आरटीपीसीआर जांच की संख्या बढ़ाने स्वास्थ्य विभाग ने कोरबा, कोरिया, जशपुर, जांजगीर, दुर्ग, दंतेवाड़ा और बलौदाबाजार में भी वायरोलॉजी लैब की स्थापना का काम प्रारंभ किया जा चुका है। बहुत जल्द बालोद और मुंगेली में भी वायरोलॉजी लैब शुरू किया जाएगा। शासन ने लैब खोलने की अनुमति दे दी है।


लैब की स्थापना में इनका सहयोग महत्वपूर्ण
मंत्री ने कहा कि, नए वायरोलॉजी लैबों की स्थापना में एम्स रायपुर के निदेशक डॉ. नितिन एम. नागरकर का सहयोग और मार्गदर्शन महत्पूर्व है। इसके लिए उन्होंने भी धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि राज्य शासन और एम्स कोरोना नियंत्रण के साथ ही सुपेबेड़ा में किडनी रोगों से प्रभावितों के इलाज के लिए साथ-साथ काम कर रहे हैं। मंत्री ने कांकेर विधायक शिशुपाल सोरी और महासमुंद के विधायक विनोद सेवनलाल चन्द्राकर को भी धन्यवाद दिया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!