Homeशिक्षाअपने आदतों में लाएं सुधार,पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने से बचें- अवर मुख्य...

अपने आदतों में लाएं सुधार,पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने से बचें- अवर मुख्य सचिव

  • दो दिवसीय इको बाल मेला शुरू
  •  विद्यार्थियों ने तैयार की है सुंदर प्रदर्शनी 
  • हर जिले के 3-3 इको क्लब के विद्यार्थी हुए हैं शामिल

रायपुर.छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल ने स्कूली बच्चों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने और उन्हें पर्यावरण संरक्षण के लिये प्रेरित करने के लिए दो दिवसीय बाल इको बाल मेले का आयोजन किया है। इस मेले का मंगलवार को अपर मुख्य सचिव आवास एवं पर्यावरण विभाग एवं अध्यक्ष सुब्रत साहू ने शुभारंभ किया गया।

अपर मुख्य सचिव ने विद्यार्थियों को बाल मेले का लाभ उठाने का आग्रह करते हुए कहा किपर्यावरण संरक्षण में स्कूली बच्चों को आगे आना होगा। युवा पीढ़ी होने के नाते स्कूली बच्चों की पर्यावरण की रक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका है।

मौजूदा जन जीवन कठिन दौर से गुजर रहा 

सचिव साहू ने पर्यावरण पर मंडराते खतरों का उल्लेख करते हुए कहा कि मौजूदा समय में पृथ्वी और हमारा जन-जीवन एक कठिन दौर से गुजर रहा है। विकास की गति को बरकरार रखते हुए पर्यावरण को बचाये रखना एक बड़ी चुनौती है, लेकिन थोड़ी सी सावधानियों के साथ ऐसा कर पाना संभव है।

पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने से बचें

उन्होंने कहा कि हमें अपनी आदतों में परिवर्तन लाना होगा। पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले कार्यों को छोड़ना होगा। हमें अपने व्यवहार से पर्यावरण की रक्षा का संदेश देना होगा।छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल के सदस्य सचिव आर.पी. तिवारी ने दो दिवसीय इको बाल मेले के आयोजन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह कार्यक्रम मुख्यतः पर्यावरणीय जन-जागरूकता के लिए किया गया है।

मेले में सभी जिलों के विद्यार्थी हुए हैं शामिल

दो दिवसीय इको बाल मेले में प्रदेश के सभी जिलों के 03-03 इको क्लब स्कूलों के विद्यार्थी शामिल हुए हैं। विद्यार्थियों ने विभिन्न पर्यावरणीय विषयों पर केन्द्रित शैक्षणिक मॉडल की प्रदर्शनी प्रस्तुत किए हैं, जिनमें पर्यावरण पर आए खतरों को दर्शाते हुए पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया है। साथ ही पर्यावरण पर आधारित विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जा रही है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!