HomeEntertainmentCrimeअंतरराज्यीय गिरोह दुर्ग में गिरफ्तार,रायपुर, बिलासपुर के आधा दर्जन ज्वेलरी दुकानों में...

अंतरराज्यीय गिरोह दुर्ग में गिरफ्तार,रायपुर, बिलासपुर के आधा दर्जन ज्वेलरी दुकानों में कर चुके हैं लाखों की ठगी

पुलिस अधीक्षक डॉ पल्लव ने मामले का किया खुलासा

भिलाई.छत्तीसगढ़ के दुर्ग कोतवाली पुलिस ने हिन्दी फिल्म बंटी -बबली की तरह ठगी की घटना को अंजाम देने वाले अर्न्तराज्यीय गिरोह को गिरफ़्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से करीबन 2.50 लाख की लागत के सोने के लाकेट, टाप्स, मोबाइल और कागजात जब्त किया है।चारों आरोपियों के खिलाफ धारा  420 और 34 के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि बंटी -बबली ठग गिरोह बिलासपुर में चार और रायपुर के दो ज्वेलरी दुकानों में नकली सोना देकर,असली सोना लेकर ठगी कर चुके हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सभी आरोपी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। इनमें आरोपी सुनीता देवी और संजय कुमार वर्मा गौतम बुद्ध नगर नोएडा उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। दोनो पति पत्नी है। रेशमी उर्फ दशमी खैरवार और पिंटू नई बस्ती कांजीपुरा, बलिया उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। दोनों पति-पत्नी है। दोनों जोड़ों ने मिलकर फिल्म बंटी-बबली की तरह दुर्ग शहर में दो दिन के अंदर दो ज्वेलरी दुकान में ठगी की घटना को अंजाम दिया है।

दो दिन में दो दुकान में की ठगी 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय ध्रुव ने बताया कि आरोपियों ने 16 जून को महावीर ज्वेलर्स दुर्ग में नकली सोना देकर, असली सोना लेकर ठगी की घटना को अंजाम दिया। महिला ने पुराने जेवर को बदली कर नया जेवर ले गया था। बाद में जब जांच की गई तो पुराने जेवर नकली पाया गया। इसी तरह 17 जून को सहेली ज्वेलर्स में घटना हुई। इसमें भी महिला द्वारा नकली सोना देकर,असली सोना लेकर ठगी करने का मामला सामने आया।

छत्तीसगढ़ की संस्कृति के गौरव को बढ़ावा देने की दिशा में मुख्यमंत्री का एक और महत्वपूर्ण निर्णय

राष्‍ट्रीय रक्षा अकादमी एवं नौसेना अकादमी परीक्षा परिणाम घोषित

चोरी करने के बाद छोड़ देते थे शहर

पुलिस दोनों ही मामले की सीसीटीवी फुटेज के आधार पर महिला के बारे पतासाजी करने के लिए होटल लॉज की चेकिंग किया। जांच के दौरान स्टेशन रोड स्थित लाखे लाज में सुनीता की स्थिति संदिग्ध लगने पर उन्हें पुलिस थाना लाया गया। जहां पूछताछ में उसने बताया कि उनका पति संजय कुमार वर्मा, उनका दोस्त पिंटू और उनकी पत्नी रेश्मी सभी मिलकर चोरी करते हैं। चोरी करने एक दो बाद शहर छोड़ देते हैं।

प्रार्थी व सहेली ज्वेलर्स के मालिक मोहित जैन ने बताया कि 17 जून को दुकान में एक महिला सुनिता देवी आकर बोली कि भैया सोने का टाप्स दिखाना। तब उसने महिला को सोने का टाप्स दिखाया। टाप्स महिला को पसंद आ गया। महिला ने पुराने सोने के जेवर देकर सोने का नया जेवर बदली कर लिया और जेवर एवं बिल लेकर चली गयी। बाद में जांच किया तो सोना नकली निकला।

जेवरात, मोबाइल जब्त

पुलिस ने आरोपियों के पास से 50 हजार के सोने की लॉकेट और टाप्स, रायपुर के दो ज्वेलस और बिलासपुर के चार ज्वेलरी दुकानों में ठगी किए 1,68,500 हजार रुपए सोने के जेवरात बरामद किया है।

आई.पी.एम ऐप से रहें दूर,नहीं तो आप भी हो सकते हैं धोखाधड़ी के शिकार

अंतरराज्यीय चोर गिरोह : कहीं आपके कॉलोनी में भी ऐसे पॉपकाॅर्न बेचने वाले तो नहीं आते 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!