Homeनिकायश्रमायुक्त समिति बनाकर करेंगे बीईसी मामले की जांच

श्रमायुक्त समिति बनाकर करेंगे बीईसी मामले की जांच

भिलाई @ news-36भिलाई इंजीनियरिंग कॉर्पोरेशन (बीईसी) प्रबंधन की ओर से श्रमिकों को जबरन काम से निकाले जाने के मामले में आज श्रमायुक्त दुर्ग आर.के. प्रधान ने भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव के निवास पर श्रमिकों से मिले। जहां श्रमिकों के प्रतिनिधि मंडल ने 200 से अधिक लिखित शिकायत पत्र श्रमायुक्त को सौंपा और अपनी रखी। श्रमिकों ने बताया कि लगातार बीईसी प्रबंधन श्रमिकों पर दबाव बना रहा है। मनमानी कर हमें काम पर नहीं आने दे रहा है।
अप्रैल और मई के महीने में श्रमिकों को 4 दिन और 6 दिन का भुगतान कंपनी स्लिप के माध्यम से किया गया है स्लिप की छायाप्रति भी श्रमिकों ने आयुक्त महोदय को दिया।
ऐसे कई श्रमिक जिनका कि नौकरी अभी 10 वर्ष या उससे भी अधिक बचा हुआ है ऐसे लोगों को भी प्रबंधन बुलाकर जबरजस्ती इस्तीफा देने हेतु मजबूर कर रहा है। ऐसे भी कई श्रमिक है जिनको कंपनी ने जबरन निकाल तो दिया है परंतु उनका वेतन और ग्रेज्युटी का भुगतान अभी तक नहीं किया है। कैंटीन बंद कर वहाँ के कर्मचारियों को भी बेरोजगार कर दिया गया है। ड्रेस,जूते तथा बोनस 3 साल से बकाया है लगातार प्रबंधन अत्याचार कर रहा है। जिस पर भिलाई विधायक देवेंद्र यादव ने श्रमायुक्त प्रधान को जल्द ही वेतन का भुगतान के संबंध में प्रबंधन से बात करने कहा और गलत तरीके से दबाव डाल कर त्यागपत्र मांगे के विषय पर जांच करने की बात कही।

यह भी पढ़ें: पीपीई किट में मां को होने वाली परेशानी को दूर करने की ललक ने बेटे को बनाया अन्वेषक  https://news-36.com/wp/the-ardor-to-solve-the-problems-faced-by-the-mother-in-the-ppe-kit-made-her-son-an-investigator-a-student-of-mumbai-prepared-a-cool-ppe-kit-for-the-corona-warriors-read-how-kov-tek-prepared-from-th/

बारीकी से होगी पूछताछ
इस पूरे विषय पर श्रमायुक्त प्रधान ने कहा कि जमीनी स्तर पर कमेटी का गठन कर जांज की जाएगी। फैक्ट्री जाकर वहां श्रमिकों से पूछताछ भी किया जाएगा।ं किसी भी हाल में मजदूरों को काम से नहीं निकाला जाएगा। अप्रैल और मई के संबंध में कार्यरत श्रमिकों की सूची मंगवाकर जांच की जाएगी।किससे कितने दिन काम करवाया गया कितना काम लिया जा रहा है। जांच में दोषी पाये जाने पर प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने की जानकारी दी। इस दौरान प्रतिनिधि मंडल की बैठक में रामाराव ,आदित्य सिंह, शंकर राव, मोहन राव, बबलू मांझी, टी. जी. नायडू, शिवराज, रमेश दलाई, विजय, बी.मोहन राव,सुदर्शन राव, वेंकट राव,अनिल शर्मा,वल्लभ राव, पुरेन्दर उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें :सराफा कारोबारी सांखला के निवास में रेवेन्यु इंटेलिजेंस के टीम की दबिश  http://news-36.com/wp/in-the-residence-of-the-bullion-business-chain-the-rage-of-the-team-of-revenue-intelligence-stir-in-the-fort-businessmen/

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!