Homeराज्यराष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव का रंगारंग होगा आगाज, सीएम होंगे मुख्य अतिथि

राष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव का रंगारंग होगा आगाज, सीएम होंगे मुख्य अतिथि

रायपुर.छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 1 नवम्बर 2022 मंगलवार को 23वें स्थापना दिवस मनाया जाएगा। तीन दिनों तक चलने वाले राज्य स्तरीय कार्यक्रम साईंस कॉलेज मैदान में होगा। जहां राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव होगा। यह महोत्सव 3 नवंबर तक चलेगा। सुबह 11 बजे बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव एवं राज्योत्सव का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत करेंगे।

उद्घाटन समारोह के विशिष्ट अतिथि गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, वन एवं परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ.शिवकुमार डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, सांसद सुनील सोनी, संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज, विकास उपाध्याय, कुंवर सिंह निषाद और द्वारिकाधीश यादव, विधायक सत्यनारायण शर्मा, बृजमोहन अग्रवाल, धनेन्द्र साहू और कुलदीप जुनेजा सहित सांसद, विधायक, संसदीय सचिव, निगम मंडल, आयोग, जिला पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं महापौर उपस्थित रहेंगे।

सभी जिला मुख्यालयों में सांस्कृतिक कार्यक्रम

स्थापना दिवस पर सभी जिला मुख्यालयों में  सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। जिला मुख्यालय महासमंद में आयोजित किए जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम में संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर मुख्य अतिथि होंगे। इसी प्रकार जिला मुख्यालय धमतरी के कार्यक्रम में संसदीय सचिव गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला मुख्यालय बलौदाबाजार-भाटापारा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव शकुंतला साहू, जिला मुख्यालय गरियाबंद के कार्यक्रम में विधायक अमितेष शुक्ल, जिला मुख्यालय दुर्ग के कार्यक्रम में विधायक कुलदीप जुनेजा, जिला मुख्यालय राजनांदगांव के कार्यक्रम में विधायक अरूण वोरा, जिला मुख्यालय कबीरधाम के कार्यक्रम में विधायक ममता चंद्राकर मुख्य अतिथि होंगे।

Chhattisgarh
साइंस कॉलेज ग्राउंड में शिल्पग्राम की प्रदर्शनी

जिला मुख्यालय बालोद के कार्यक्रम में विधायक संगीता सिन्हा, जिला मुख्यालय बेमेतरा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, जिला मुख्यालय बिलासपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव डॉ.रश्मि आशीष सिंह, जिला मुख्यालय कोरबा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव, जिला मुख्यालय रायगढ़ के कार्यक्रम में विधायक लालजीत सिंह राठिया, जिला मुख्यालय मुंगेली के कार्यक्रम में संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद, जिला मुख्यालय जांजगीर-चांपा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव चंद्रदेव प्रसाद राय, जिला मुख्यालय गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही के कार्यक्रम में विधायक डॉ. के.के.ध्रुव और सरगुजा जिला मुख्यालय अम्बिकापुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े मुख्य अतिथि होंगे।

इसी तरह जिला मुख्यालय कोरिया, बैकुण्ठपुर के कार्यक्रम में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री गुलाब कमरो, जिला मुख्यालय जशपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव यू.डी.मिंज, जिला मुख्यालय सूरजपुर के कार्यक्रम में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष बृहस्पत सिंह, जिला मुख्यालय बलरामपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव चिंतामणी महाराज, जिला मुख्यालय बस्तर (जगदलपुर) के कार्यक्रम में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, जिला मुख्यालय कांकेर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव शिशुपाल सोरी, जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा के कार्यक्रम में विधायक देवती कर्मा, जिला मुख्यालय सुकमा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव रेखचंद जैन होंगे।

जिला मुख्यालय कोण्डागांव के कार्यक्रम में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष संतराम नेताम, जिला मुख्यालय नारायणपुर के कार्यक्रम में विधायक चन्दन कश्यप, जिला मुख्यालय बीजापुर के कार्यक्रम में विधायक विक्रम मण्डावी, जिला मुख्यालय मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी के कार्यक्रम में संसदीय सचिव इन्द्रशाह मण्डावी, जिला मुख्यालय खैरागढ़-छुईखदान-गण्डई के कार्यक्रम में विधायक यशोदा वर्मा, जिला मुख्यालय सारंगढ़-बिलाईगढ़ के कार्यक्रम में विधायक उत्तरी जांगड़े, जिला मुख्यालय मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के कार्यक्रम में विधायक विनय जायसवाल और जिला मुख्यालय सक्ती के कार्यक्रम में विधायक रामकुमार यादव मुख्य अतिथि होंगे।

यह भी पढ़ें: एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का लोक कलाकारों ने किया स्वागत

सहस्त्रबाहु जयंती समारोह में बोले सांसद बघेल, व्यक्ति कितने भी बड़े पद पर आसीन हो जाए लेकिन समाज बड़ा नहीं हो सकता

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!