Homeराजनीतिस्नेह यात्रा पर मुख्यमंत्री ने कहा 'जूता से मारो और दुशाला से...

स्नेह यात्रा पर मुख्यमंत्री ने कहा ‘जूता से मारो और दुशाला से पोछो’ ये कैसे चलेगा!

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भाजपा की स्नेह यात्रा पर तीखे शब्दों में हमला बोला है। मुख्यमंत्री ने कहा, भाजपा देश भर में आग लगाकर अब स्नेह यात्रा निकालेगी। ‘जूता से मारो और दुशाला से पोछो’ ये कैसे चलेगा!

दरसअल हैदराबाद में हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्य समिति की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी को स्नेह यात्रा निकालने की सलाह दी है। इसी विषय पर जब बैकुंठपुर में पत्रकारों ने मुख्यमंत्री से सवाल किया तब मुख्यमंत्री ने कहा कि,भाजपा की प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने जो बात कही उसके कारण पूरे देश के वातावरण में वैमनस्य आ गई। उस समय हमारे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने बार-बार यह अपील की कि इस समय प्रधानमंत्री जी को गृह मंत्री जी को देश के सामने आकर शांति की अपील करनी चाहिए। ये एक बार भी अपील नहीं किए। पूरे देश में आग लगी रही।

मुख्यमंत्री ने कहा, तो क्या देश में इस तरह की आग लगाने के बाद ये स्नेह यात्रा निकालेंगे। नूपुर शर्मा के खिलाफ एफआईआर क्यों नहीं हुई। उसी अपराध में एक पत्रकार जुबैद को आप जेल में डाल देते हो और उसी अपराध में नूपुर शर्मा बाहर घूम रही है। सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इसका मतलब यह है कि आप एक तरफ बढ़ावा दे रहे हैं। ‘जूता से मारो और दुशाला से पोछो’ ये कैसे चलेगा।

भाजपा के लोग बताएं, उदयपुर के हत्यारे और कश्मीर के आतंकी से क्या रिश्ता है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, जो उदयपुर की घटना हुई जिसमें एक हिंदू व्यवसायी का गला रेता गया। इस बर्बरतापूर्ण कार्रवाई की जितनी निंदा की जाए कम है। उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। अब भाजपा को बताना चाहिए कि वे जो हत्यारे हैं उनका भाजपा से क्या रिश्ता है। उनका कनेक्शन क्या है। अभी जम्मू कश्मीर में उनके आईटी सेल का आदमी आतंकवादी गतिविधियों में पकड़ा गया है। इसके बारे में उनको क्या कहना है।

लोगों का ध्यान बांटने के लिए ऐसा कराने की आशंका जताई

मुख्यमंत्री ने कहा, क्या ऐसा नहीं लगता कि भाजपा और केंद्र की सरकार लोगों का ध्यान बांटने के लिए इस प्रकार के कृत्य करवा रही हैं। जो मरा वह भी भाजपा का, मारा वह भी भाजपा का और छत्तीसगढ़ में बंद भी भाजपा ही करा रही थी। यह क्या है? बताना चाहिए उनको कि उनके साथ रिश्ता क्या है। एक भी आदमी ने यह नहीं बताया कि वह उनका कार्यकर्ता नहीं था, उनसे संबंधित नहीं था।

यह भी पढ़ें: महंगाई की मार, घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत 1050 के पार

श्रावण सोमवार की पूजा को ऐसे बनाएं फलदाई,महादेव को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!