Homeराजनीतिईश्वर में विलीन हो गए जननेता मंडावी,अंतिम यात्रा में शामिल हुए मुख्यमंत्री...

ईश्वर में विलीन हो गए जननेता मंडावी,अंतिम यात्रा में शामिल हुए मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष

  •  गृह ग्राम नथिया-नवागांव में राजकीय सम्मान के साथ दी गई विदाई
  • जन नेता के अंतिम दर्शन के लिए उमड़े लोग
  • मुख्यमंत्री ने कहा प्रदेश के विकास में उनके योगदान को हमेशा रखा जाएगा याद

रायपुर.छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष स्वर्गीय मनोज सिंह मण्डावी ईश्वर में विलीन हो गए। श्री मंडावी को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरण दास महंत समेत मंत्रि मंडल के सदस्य अंतिम यात्रा में शामिल हुए।  मुख्यमंत्री श्री बघेल ने विधानसभा उपाध्यक्ष स्वर्गीय पुष्पचक्र अर्पित किया और श्री मंडावी के पार्थिव शरीर को कंधा भी दिया। श्री मण्डावी के शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।

छात्र जीवन से ही राजनीति से जुड़े

मुख्यमंत्री बघेल विधानसभा उपाध्यक्ष मण्डावी के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वे वरिष्ठ आदिवासी नेता थे। स्वर्गीय मण्डावी छात्र जीवन से ही राजनीति से जुड़े हुए थे। उन्होंने नवगठित छत्तीसगढ़ के गृह राज्यमंत्री और विधानसभा के उपाध्यक्ष सहित अनेक महत्वपूर्ण पदों को सुशोभित किया और प्रदेश की सेवा की। वे वर्ष 1998 में अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा के तथा वर्ष 2013 और 2018 में छत्तीसगढ़ विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए। श्री मंडावी छत्तीसगढ़ आदिवासी विकास परिषद के अध्यक्ष भी रहे।

Chhattisgarh
परिजनों से मिलकर संवेदना व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

यह भी पढ़ें: विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज सिंह मंडावी नहीं रहे,कोटेश्वर महादेव मंदिर से था उनका विशेष लगाव

उद्योग और नए स्टार्टअप के लिए युवा पीढ़ी को सरकार हर संभव मदद के लिए तैयार-मंत्री लखमा

मुख्यमंत्री ने कहा कि मनोज सिंह मंडावी आदिवासी समाज के बड़े नेता थे। वे आदिवासियों की समस्याओं को विधानसभा में प्रभावशाली ढंग से रखते थे। श्री मंडावी आदिवासी समाज की उन्नति और अपने क्षेत्र के विकास के लिए सदैव प्रयासरत रहे। विधानसभा उपाध्यक्ष के रूप में उनकी कार्यशैली को पक्ष और विपक्ष के सभी लोग प्रशंसा करते थे। सरल, सौम्य व मृदुभाषी व्यवहार वाले स्वर्गीय मनोज सिंह मण्डावी को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। प्रदेश के विकास में उनके योगदान को सदैव याद रखा जाएगा। उनका निधन क्षेत्र के साथ-साथ आदिवासी समाज और प्रदेश सहित हम सबके लिए अपूरणीय क्षति है।

मंत्रिमंडल के सदस्य हुए अंतिम संस्कार में शामिल

स्वर्गीय मण्डावी के अंतिम विदाई में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया, नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव शिशुपाल सोरी, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व वरिष्ठ विधायक मोहन मरकाम, भिलाई नगर विधायक विधायक देवेन्द्र यादव राज्य,बालोद विधायक संगीता सिन्हा खाद्य आपूर्ति निगम के अध्यक्ष राम गोपाल अग्रवाल सहित जनप्रतिनिधि और क्षेत्रवासी बड़ी संख्या में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के नए अध्यक्ष के लिए 17 को मतदान

ओबीसी वर्ग ध्यान दें:क्वांटीफायबल डाटा में पंजीयन कराने के लिए आखरी मौका

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!