HomeEntertainmentCrimeअवैध हथियार रखने वालों की पुलिस खंगाल रही है कुंडली, रसूखदार भी...

अवैध हथियार रखने वालों की पुलिस खंगाल रही है कुंडली, रसूखदार भी आ सकते हैं सपड़ में 

हथखोज में हवाई फायर करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने मामले का किया खुलासा

दुर्ग. पुलिस अवैध हथियार रखने वालों को बहुत जल्द बेनकाब कर सकते हैं। दुर्ग पुलिस का कहना है कि उन्हें कुछ ऐसे लिंक और क्लू मिले हैं, जो उन्हें अवैध हथियार रखने वालों तक पहुंचा सकती है। पुलिस का यह भी कहना है कि अवैध आर्म्स रखने वालों में कुछ अच्छे लोग भी है। जो शौकिया तौर पर अवैध हथियार रखे हुए हैं। एंटी क्राईम एवं सायबर यूनिट और पुलिस की टीम लिंक के माध्यम से ऐसे लोगों की कुंडली खंगाल रही है। ताकि फायर ऑर्म्स रखने वालों खिलाफ कड़ी कार्रवाई किया जा सके और फायर ऑर्म्स का भय दिखाने वाले कृत्यों को रोका जा सके।

शहर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय ध्रुव ने मंगलवार को एक ऐसे ही मामले का खुलासा किया और औद्याेगिक क्षेत्र हथखोज भिलाई में अवैध देशी पिस्टल से हवाई फायर करने वाले तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक 9एमएम का देशी पिस्टल और तीन जिंदा कारतूस भी बरामद किया है।

एएसपी ध्रुव ने बताया कि एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव के निर्देश पर एंटी क्राईम एवं सायबर यूनिट की टीम सोशल मीडिया पर लगाकार मानिटरिंग कर रही है। इस बीच फेसबुक पर एक मैसेज सामने आया कि “हथखोज में मजा आया”। इस मैसेज को लेकर एंटी क्राइम ब्रांच के प्रभारी निरीक्षक संतोष मिश्रा और पुरानी भिलाई के थाना प्रभारी मनीष शर्मा की सयुंक्त टीम ने खोजबीन शुरू की।

पूछताछ में पता चला कि हथखोज इंजीनियरिंग पार्क बालाजी फैक्ट्री के पीछे तालाब के पास तीन व्यक्तियों को हवाई फायर करते हुए देखा गया है। उनके पास अवैध पिस्टल और जिंदा कारतूस है। सूचना पर टीम ने आरोपी गुरविंदर सिंह, रिहान खान और अरशद मोहम्मद को हिरासत में लिया। आरोपियों के माध्यम से इस तरह से संदेही और अपराधियों की कुंडली खंजाल रहे हैं।

25 हजार में खरीदा है पिस्टल

पूछताछ में आरोपी गुरविंदर सिंह ने बताया कि वह ड्रायवर है। ट्रांसपोर्ट लाइन में रौब दिखाने के लिए पिस्टल को इंदौर से 25 हजार रुपए में खरीदा है। पिस्टल के साथ पांच जिंदा कारतूस थे। जिनमें से दो राउंड हवाई फायर करना स्वीकार किया। पुलिस का कहना है कि पिस्टल गुरविंदर ने ही खरीदा है। इसके बाद उन्होंने पिस्टल को ढांचा भवन कुरुद में रहने वाले रिहान खान पिता रियाज खान को दिया। उसके बाद पिस्टल कुछ दिन रहा। फिर उसे हाउसिंग बोर्ड जामुल निवासी अपने साथी मो.अरशद पिता रियाज को दिया। तीनों ने हथखोज तालाब के पास हवाई फायर किया है।

यह भी पढ़ें: एसपी डॉ पल्लव ने लेनदेन के आरोप में दो आरक्षकों को किया निलंबित

रेलवे ने शुरू की 23 गाड़ियों में एमएसटी की सुविधा

परीक्षा देने गए छात्र को स्कूल के ही दूसरे ग्रुप के लड़कों ने पीट-पीटकर मार डाला

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!