Homeदेशसीएम को पुलिस ने किया गिरफ्तार

सीएम को पुलिस ने किया गिरफ्तार

नेशनल हेराल्ड केस में राहुल गांधी से पूछताछ के विरोध में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं समेत छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पुलिस ने बीच रास्ते में रोक लिया और गिरफ्तार कर लिया और जब मुख्यमंत्री और दूसरे नेता कांग्रेस मुख्यालय के सामने सड़क पर ही बैठ गए तो उन्हें पुलिस ने जबरिया गिरफ्तार कर लिया। कांग्रेस मुख्यालय में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ उनके सलाहकार राजेश तिवारी और रायपुर विधायक विकास उपाध्याय भी मौजूद हैं।

दरअसल कांग्रेस के नेता और मुख्यमंत्री प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर की ओर मार्च करने की तैयारी में थे, लेकिन पुलिस ने प्रदर्शन की संभावना को देखते हुए कांग्रेस मुख्यालय की ओर जाने वाले अकबर रोड को बंद कर रखा है।दूसरे वरिष्ठ नेता भी वहां पहुंच गए हैं। ।

कांग्रेस नेता उनके साथ जाने पर अड़े हुए हैं। हालांकि दिल्ली पुलिस ने इसकी अनुमति नहीं दी है। इसी बीच 24 अकबर रोड से के.सी. वेणुगोपाल, अधीर रंजन चौधरी, रंजीता रंजन, ईमरान प्रताप गढ़ी, दीपेंद्र हुड्डा, गौरव गोगई सहित राष्ट्रीय सचिव एवं विधायक विकास उपाध्याय को गिरफ्तार किया गया है, इन सभी को बादरपुर पुलिस स्टेशन ले जाया गया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है, देश के भाजपा शासित एक भी राज्य में समर्थक दलों या उनके नेताओं पर केस दर्ज नहीं हुए हैं। भाजपा सरकार केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर विपक्ष के आवाज को दबाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा, जब भी किसी नेता पर छापा पड़ता है तो कहा जाता है कि बहुत बड़ा मामला है पर वह जैसे ही भाजपा में शामिल होता है, मामला रफा-दफा कर दिया जाता है। बघेल ने कहा, केरल से लेकर कश्मीर तक विपक्षी नेताओं पर केस दर्ज कर परेशान किया जा रहा है। लोकतंत्र में इस तरह आवाज को दबाया नहीं जा सकता।

प्रवर्तन निदेशालय ने राहुल गांधी से सोमवार को करीब 9 घंटे तक पूछताछ की थी। रात 10 बजे के बाद वे बाहर निकले। उन्हें मंगलवार को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया है। जहां उनसे पूछताछ चल रही है।

सोमवार को राहुल गांधी के साथ प्रवर्तन निदेशालय जाने के लिए निकले कांग्रेस नेताओं को अलग-अलग स्थानों पर रोक लिया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ED दफ्तर के पास रोक लिए गए। वहां पुलिस ने उन्हें डिटेन किया। मुख्यमंत्री के सुरक्षा अधिकारियों के साथ दिल्ली पुलिस के अफसरों की नोकझोंक भी हुई। बाद में मुख्यमंत्री को उनके सुरक्षाकर्मी वापस लाए। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम, केसी वेणुगोपाल, दीपेंदर सिंह हुड्डा, विकास उपाध्याय जैसे नेताओं को पुलिस गिरफ्तार कर ले गई थी। जिन्हें बाद में छोड़ा गया।

 

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!