Homeस्वास्थ्यगर्भवती महिलाओं की घर बैठे होगी खून की जांच, एनीमिया मोबाइल टेस्टिंग...

गर्भवती महिलाओं की घर बैठे होगी खून की जांच, एनीमिया मोबाइल टेस्टिंग यूनिट को सीएम ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

जशपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को बागीचा में भेंट-मुलाकात के दौरान एनीमिया मोबाइल टेस्टिंग यूनिट को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह मोबाइल टेस्टिंग यूनिट लोगों के बीच जाकर एनीमिया की जांच करेगी और खून की कमी वाले व्यक्तियों को दवाई देगी। मोबाइल यूनिट के माध्यम से लोगों को एनीमिया के प्रति जागरूक कर इसके दुष्प्रभावों और इससे बचने के उपायों के बारे में भी बताया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने एनीमिया मोबाइल टेस्टिंग यूनिट को हरी झंडी दिखाने के बाद स्कूली बच्चों और गर्भवती महिला को एनीमिया से बचाव के लिए थेरेपेटिक डोज का वितरण किया। राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत स्कूली बच्चों को थेरेपेटिक डोज (WIFAS – Weekly Iron Folic Acid Suppliment) दिया जाता है। प्राथमिक शाला के बच्चों को दो माह का और पूर्व माध्यमिक शाला के बच्चों को तीन माह की खुराक दी जाती है। गर्भवती और शिशुवती महिलाओं को भी इसकी छह महीने की खुराक दी जाती है।

advt

यह भी पढ़ें:सीएम ने की बड़ी घोषणा: सात विशेष पिछड़ी जनजाति समूह के युवाओं को मिलेगी सरकारी नौकरी

GOVT JOB: नगरीय निकाय क्षेत्र के स्कूलों में 440 पदों पर होगी उर्दू शिक्षकों की भर्ती

स्वामी आत्मानंद स्कूलों में निकली 61 पदों पर भर्ती, जिला शिक्षा विभाग ने मंगाए आवेदन

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!