HomeUncategorized प्रधानमंत्री मोदी सेंट्रल विस्टा का लोकार्पण करने पहुंचे, आज से राजपथ कहलाएगा...

 प्रधानमंत्री मोदी सेंट्रल विस्टा का लोकार्पण करने पहुंचे, आज से राजपथ कहलाएगा कर्तव्य पथ

  • 3.20 किमी लंबा राजपथ अब कहलाएगा कर्तव्य पथ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुरुवार को सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का लोकार्पण करने इंडिया गेट पर पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री इंडिया गेट पर कर्त्तव्य पथ पर पैदल चलते हुए कार्यक्रम स्थल तक पहुंचे। प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इंडिया गेट के सभी 10 मार्गों को शाम छह से रात नौ बजे तक बंद करने का फैसला किया है।

आज से करीब 3.20 किमी लंबा राजपथ नए रंग-रूप और नाम के साथ अब कर्तव्य पथ के रूप में जाना जाएगा। दिल्ली के सैलानियों को इलेक्ट्रिक बसों में सफर करते वक्त सेंट्रल विस्टा की खूबसूरती निहारने का मौका मिलेगा। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) सेंट्रल विस्टा के उद्घाटन के बाद शुक्रवार से सैलानियों के लिए इंडिया गेट के नजदीक निशुल्क ई-बसें चलाने जा रहा है।

ई-बसें नजदीकी चार जगहों से नेशनल स्टेडियम गेट नंबर-1 तक चलेंगी। इससे आगे इंडिया गेट तक लोग पैदल सफर करेंगे। 12 ई-बसों की सुविधा हर दिन शाम पांच से नौ बजे के बीच मिलेगी। मेट्रो अधिकारियों का कहना है कि यह पॉयलेट प्रोजेक्ट है। बेहतर नतीजे मिलने के बाद इसे आगे भी जारी रखा जाएगा।

सेंट्रल विस्टा एवेन्यू 608 करोड़ रुपए खर्च
इस परियोजना पर कुल 608 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। 21 जुलाई 2022 को लोकसभा में पूछे एक सवाल के जवाब में सरकार ने यह जानकारी दी थी। इसके मुताबिक अब तक परियोजना पर 477.28 करोड़ रुपये खर्च हो चुका था।

पूरे प्रोजेक्ट की बात करें तो इसके तहत जिन पांच परियोजनाओं पर कार्य होना है उनमें से चार पर काम शुरू हो चुका है। इन चारों पर कितना खर्च आएगा इसकी जानकारी भी सरकार ने लोकसभा में दी थी। सेंट्रल विस्टा एवेन्यू के अलावा नए संसद भवन पर 971 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। वहीं, उप राष्ट्रपति भवन पर 208.48 करोड़ रुपये और केंद्रीय सचिवाल पर 3,690 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। पूरे प्रोजेक्ट पर 20 हजार करोड़ रुपए खर्च होने की बात कही जा रही है। केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों की ओर से 13,450 करोड़ रुपए का क्लियरेंस मिल चुका है।

सेंट्रल विस्टा के अंदर क्या-क्या आता है?
इस वक्त सेंट्रल विस्टा के अंदर राष्ट्रपति भवन, संसद, नॉर्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक, रेल भवन, वायु भवन, कृषि भवन, उद्योग भवन, शास्त्री भवन, निर्माण भवन, नेशनल आर्काइव्ज, जवाहर भवन, इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स (IGNCA), उपराष्ट्रपति का घर, नेशनल म्यूजियम, विज्ञान भवन, रक्षा भवन, वाणिज्य भवन, हैदराबाद हाउस, जामनगर हाउस, इंडिया गेट, नेशनल वॉर मेमोरियल और बीकानेर हाउस आते हैं।

राजपथ अतीत से वर्तमान तक
आजादी से पहले राजपथ को किंग्स वे और जनपथ को क्वींस वे के नाम से जाना जाता था। स्वतंत्रता मिलने के बाद क्वींस वे का नाम बदलकर जनपथ कर दिया गया था। जबकि किंग्स वे राजपथ के नाम से जाना जाने लगा। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के बाद अब इसका नाम कर्तव्य पथ कर दिया गया है। केंद्र सरकार का मानना है कि राजपथ से राजा के विचार की झलक मिलती है, जो शासितों पर शासन करता है। जबकि लोकतांत्रिक भारत में जनता सर्वोच्च। नाम में बदलाव जन प्रभुत्व और उसके सशक्तिकरण का एक उदाहरण है।

नेताजी की प्रतिमा भी स्थापित
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 28 फुट ऊंची प्रतिमा का भी अनावरण करेंगे। ग्रेनाइट पत्थर पर उकेरी गई इस प्रतिमा का वजन 65 मीट्रिक टन है। बुधवार इसे उसी स्थान पर स्थापित की जा रही है, जहां बीते 23 जनवरी पराक्रम दिवस पर नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया गया था।

3.90 लाख वर्ग मीटर में फैली हरियाली दर्शनीय है
अपने नए रूप में कर्तव्य पथ के आस-पास लाल ग्रेनाइट से करीब 15.5 किमी का वॉकवे बना है। बगल में करीब 19 एकड़ में नहर भी है। इस पर 16 पुल बनाए गए हैं। फूड स्टॉल के साथ दोनों तरफ बैठने का भी इंतजाम है। पूरे क्षेत्र के करीब 3.90 लाख वर्ग मीटर में फैली हरियाली भी दर्शनीय है।

छह बजे के बाद यहां से बसें परिवर्तित की जाएंगी
छह बजे के बाद कई प्वाइंट से बसों को परिवर्तित किया जाएगा। ये बसें रात नौ बजे तक परिवर्तित रहेंगी। ये प्वाइंट हैं- रिंग रोड पर मोती बाग क्रॉसिंग, रिंग रोड पर भीकाजी कॉमा प्लेस, लोधी फ्लाईओवर, आईटीओ-आईपी फ्लाईओवर-विकास मार्ग, रिंग रोड-यमुना बाजार, तीस हजारी-मोरी गेट जंक्शन, पंचकुईया रोड, एम्स फ्लाईओवर, एसबीएम-मथुरा रोड, नीला गुंबद, आश्रम चौक, एन-24 रिंग रोड, रिंग रोड-आईएसबीटी, आईएसबीटी-टी प्वाइंट और धौला कुंआ।

इन मार्गों पर बढ़ेगा ट्रैफिक का दवाब
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के नई दिल्ली जिले के डीसीपी आलाप पटेल की ओर से जारी की गई एडवाइजरी में कहा गया है कि इंडिया गेट के सभी 10 मार्ग बंद होने से डब्ल्यू प्वाइंट, मथुरा रोड, अशोक रोड, क्यू प्वाइंट, पृथ्वीराज रोड, अकबर, एसबी मार्ग, एपीजे अब्दुल कलाम रोड, राजेश पायलट मार्ग, विंडसर प्लेस गोलचक्कर, क्लेरिज होटल गोलचक्कर, मान सिंह रोड, एमएलएनपी गोल चक्कर, जनपथ, फिरोजशाह रोड, मंडी हाउस गोलचक्कर और सिकंदरा रोड पर ट्रैफिक का दवाब बढ़ेगा। पुलिस ने सभी वाहन चालकों से आग्रह किया है कि वह अपनी यात्रा पहले से ही सुनिश्चित कर लें।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!