Homeदेशआईएएस अफसर और व्यापारियों के घर से 6.5 करोड़ की संपत्ति बरामद

आईएएस अफसर और व्यापारियों के घर से 6.5 करोड़ की संपत्ति बरामद

  • ईडी ने अधिकारिक तौर पर दी जानकारी
  • मनी लांड्रिंग मामले में चल रही है छापामार कार्रवाई

रायपुर.प्रवर्तन निदेशालय (ED)ने रायपुर, बिलासपुर, महासमुंद और भिलाई में मनी लॉड्रिंग मामले में हुई चल रही छापा मार कार्रवाई को लेकर शुक्रवार को बड़ा खुलासा किया है। ED के अधिकारियों ने तस्वीरें जारी कर बताया है कि प्रदेश में हुई कार्रवाई में अब तक 6.5 करोड़ की बरामदगी हुई है।अधिकारियों ने कुछ तस्वीरें भी जारी किया है। जिसमें करारे नोटों के बंडल हैं। आइएएस(IAS)समीर बिश्नोई और कारोबारियों के घर में इतना अवैध कैश मिला है कि आलमारी भर गई है।

 

ED ने आधिकारिक तौर पर कोर्ट में कहा IAS के घर से 4 किलो सोना, 47 लाख कैश और 20 कैरेट का हीरा मिला है।आज बताया कि तलाशी अभियान में बेहिसाब नकदी, सोना और गहनों के रूप में लगभग 6.5 करोड़ रुपये जब्त किए हैं। EDने अपनी तरफ से पुष्टि करते हुए कहा है कि आइएएस समीर विश्नोई के अलावा कारोबारी सुनील अग्रवाल, लक्ष्मीकांत तिवारी को रायपुर की विशेष अदालत ने कोयला घोटाला मामले में 21 अक्टूबर तक रिमांड पर ED को सौंपा है। इनसे पूछताछ जारी है। गुरुवार को ही अदालत ने रिमांड का आदेश जारी कर दिया था।

बता दें कि छत्तीसगढ़ में ED की 10 टीम रायपुर,रायगढ़,बिलासपुर, महासमुंद और भिलाई के छापा मार कार्रवाई शुरू की थी। खनिज विभाग के कामकाज में अवैध लेन देन की सूचना के आधार पर आइएएस समीर बिश्नोई, जय प्रकाश मौर्या के घर में छापा मारा है। दो दिन बाद आईएएस बिश्नोई और दो कारोबारियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई और 13 अक्टूबर को इन्हें रायपुर की अदालत में पेश किया गया।जहां से न्यायालय ने 7 दिन के लिए रिमांड पर ईडी को सौंपा है।

यह भी पढ़ें:Ed Raid: मनी लांड्रिंग मामले में आईएएस और उनकी पत्नी को हिरासत में लिया

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!