Homeधर्म-समाजसहस्त्रबाहु की जयंती समारोह शोभायात्रा के साथ शुरू,श्री सत्यनारायण की पूजा आज

सहस्त्रबाहु की जयंती समारोह शोभायात्रा के साथ शुरू,श्री सत्यनारायण की पूजा आज

  • श्री सत्यनारायण की पूजा एवं दीपावली मिलन समारोह आज
  • सिन्हा भवन सनातन कोहका में सुबह 10बजे शुरू होगा कार्यक्रम
  • जन कल्याण समिति के अध्यक्ष रिखी राम सिन्हा के नेतृत्व में निकाली गई शोभायात्रा

भिलाई.छत्तीसगढ़ डड़सेना (सिन्हा) कलार समाज ने भगवान सहस्त्रबाहु की जयंती एवं दीपावली मिलन समारोह की पूर्व संध्या पर शनिवार को मोटर सायकल और कार में शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा रिसाली स्थित मां कल्याणी शीतला मंदिर में देवी की पूजा अर्चना के साथ शुरू हुई। समाज के अध्यक्ष रिखीराम सिन्हा के नेतृत्व में समाज के पदाधिकारीगण कार और मोटर सायकल से भगवान सहस्त्रबाहु की रथ के पीछे- पीछे डीजे की धुन पर भजन कीर्तन करते हुए शहर का भ्रमण किया।

Chhattisgarh
शाेभायात्रा में शामिल हुई सिन्हा समाज की महिलाएं

शोभायात्रा रिसाली सेक्टर, डीपीएस चौक, सेक्टर-10, सेंट्रल एवेन्यू, सेक्टर 7, नेहरू नगर, जुनवानी मॉडल टाउन,कोहका भ्रमण करते हुए सनातन नगर स्थित सिन्हा भवन पहुंची। जहां शोभायात्रा को विराम दिया गया। रविवार को भगवान श्री सत्यनारायण की पूजा अर्जना के साथ सहस्त्रबाहु की जयंती मनाई जाएगी। पूजा सुबह 10 बजे शुरू होगी। भव्य शोभायात्रा में रिसाली निगम की महापौर शशि अशोक सिन्हा, छत्तीसगढ़ डड़सेना कलार समाज जन कल्याण समिति के अध्यक्ष रिखी राम सिन्हा, महासचिव अशोक सिन्हा,कोषाध्यक्ष डॉ कृपाराम सिन्हा, उपाध्यक्ष दुष्यंत गजेन्द्र, बिशेसर सिन्हा, सुमन सागर सिन्हा, संतोषी सिन्हा, घनश्याम सिन्हा, महेन्द्र सिन्हा, विजय सिन्हा गैंदराम सिन्हा, ताराचंद सिन्हा, दोमन सिन्हा, नरेन्द्र सिन्हा, लादू राम सिन्हा, किशोर कुमार नशीने, पुष्पेन्द्र गजेन्द्र, कमलेश कुमार सिन्हा, नंदकुमार डड़सेना, बसंत कुमार जायसवाल, उषा सिन्हा, सुलोचना सिन्हा, शकुन गजेन्द्र, दीतन डड़सेना, विमला सिन्हा, मधु सिन्हा, ललिता सिन्हा समेत सभी समाज के पदाधिकारी और महिलाएं शामिल हुए।

chhattisgarh
सहस्त्रबाहु जयंती समारोह की शोभायात्रा में समाज के पदाधिकारी

समाज के अध्यक्ष रिखीराम सिन्हा ने कहा कि भगवान सहस्त्रबाहु की जयंती के अवसर पर समाजिक एकता, संगठन की एकजुटता और संप्रुभता के उद्देश्य के साथ हर साल सत्यनारायण पूजा समारोह का आयोजन किया जाता है। जयंती समारोह की पूर्व संध्या पर समाज और समिति की परंपरा के अनुसार शोभायात्रा निकाली गई है। जिसमें सभी के सभी लोग शामिल हुए। रविवार को भगवान श्री सत्यनारायण की पूजा और हवन के साथ भगवान सहस्त्रबाहु जन्मोत्सव मनाया जाएगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!