HomeEntertainmentCrimeसिद्धी विनायक अस्पताल का लाइसेंस निरस्त,4 डॉक्टर समेत 7 लोगों के खिलाफ...

सिद्धी विनायक अस्पताल का लाइसेंस निरस्त,4 डॉक्टर समेत 7 लोगों के खिलाफ एफआईआर

भिलाई.बच्चे के इलाज में लापरवाही बरतने के मामले में भिलाई 3 के सिरसा गेट स्थित सिद्धी विनायक अस्पताल के 4 चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टॉफ समेत कुल 7 लोगों के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया गया है। भिलाई 3 पुलिस ने यह कार्रवाई जिला स्वास्थ्य विभाग के जांच प्रतिवेदन के आधार पर की है। जांच कमेटी की अनुशंसा के आधार पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जेपी मेश्राम ने सिद्धी विनायक अस्पताल के लाइसेंस को भी निरस्त कर दिया है।

मामला 10 माह के मासूम का

यह मामला 10 साल के मासूम का इलाज के दौरान मौत से संबंधित है। 27 अक्टूबर को सागर पारा देवबलौदा निवासी डिकेश कुमार वर्मा ने 10 साल के अपने बेटे शिवांश वर्मा की तबीयत खराब होने पर सिद्धि विनायक अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां प्राथमिक उपचार के बाद सांस लेने में तकलीफ होने पर आईसीयू में भर्ती कर इलाज किया जा रहा था। इसी दौरान 31 अक्टूबर को बच्चे की मौत हो गई। इस मामले में बच्चे के पिता डिकेश कुमार से अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ लापरवाही की शिकायत की थी।

अस्पताल में गंदगी का आलम देख भड़के कलेक्टर, सफाई एजेंसी को ब्लैक-लिस्ट करने दिए निर्देश

जिस पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जेपी मेश्राम ने जांच कमेटी गठित कर मामले की जांच कराया। जांच में डॉ समीत राज प्रसाद, शिशु रोग आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी डॉ दुर्गा सोनी,डॉ हरिराम यदु, डॉ गिरीश साहू,नर्सिग स्टॉफ आरती साहू और निर्मला यादव को इलाज में लापरवाही बरतने के लिए दोषी पाया गया। सभी के खिलाफ भिलाई 3 पुलिस ने अपराध दर्ज कर विवेजना में लिया है।

यह भी पढ़ें: 5 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़े मतदान केन्द्रों की संख्या,जिले में अब1464 मतदान केन्द्र

अग्निवीर भर्ती रैली:अभ्यर्थियों के रूकने और भोजन की व्यवस्था, कलेक्टर ने तय की विभागों की जिम्मेदारी

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!