Homeराज्यस्वामी आत्मानंद जी ने अपना पूरा जीवन लोगों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने...

स्वामी आत्मानंद जी ने अपना पूरा जीवन लोगों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने में लगा दिया-मुख्यमंत्री

  • पाटन में आयोजित स्वामी आत्मानंद की जयंती समारोह में शामिल हुए मुख्यमंत्री
  • 921 करोड़ रुपये के भूमिपूजन और लोकार्पण कार्यों की दी सौगात
  • स्वामी आत्मानंद के नाम से 701 अंग्रेजी माध्यम स्कूल संचालित

दुर्ग. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को पाटन में आयोजित स्वामी आत्मानंद जयंती समारोह में शामिल हुए। जहां उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि और आजीविकामूलक गतिविधियों पर जो काम हो रहा है उसकी राह स्वामी आत्मानंद, डॉ खूबचंद बघेल जैसी विभूतियों ने दिखाई है। वहीं मुख्यमंत्री ने 921 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी आत्मानंद जी ने अपना पूरा जीवन शिक्षा को गुणवत्त्ता के साथ सभी वर्गों के लिए उपलब्ध कराने के लिए लगाया। स्वामी आत्मानंद जी ने अपना पूरा जीवन शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बनाने में लगा दिया-मुख्यमंत्री हैं। यहाँ अंग्रेजी के साथ संस्कृत और छत्तीसगढ़ी की सीख भी दी जा रही है ताकि बच्चे अपनी परंपरा और जड़ों से भी जुड़े रह सके। उन्होंने कहा कि लोगों के लिए आर्थिक अवसर उपलब्ध कराने के साथ संस्कृति को सहेजने की दिशा में हमने कार्य किया है।

आज स्वामी आत्मानंद जी की जयंती समारोह पर हम सब एकत्रित हुए हैं। हम उनके दिखाए रास्ते पर चलने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि आज मैंने रायपुर में छत्तीसगढिया ओलंपिक का शुभारंभ किया। हमारे छत्तीसगढ़ी खेल विलुप्तप्राय हो गए थे। अब 14 प्रकार के हमारे स्थानीय खेल हमने शामिल किए हैं।
सभी के लिए इसमें खेल में भाग लेने के अवसर हैं। स्वामी आत्मानंद जी की जयंती पर यह कार्यक्रम आरम्भ हुआ है और स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर समाप्त होगा।

chhattisgarh
स्वामी आत्मानंद की जयंती पर नमन करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

दीवाली के पहले हम किश्त की राशि 17 अक्टूबर को देंगे ताकि लोग अच्छे से दीवाली मनाए। इससे व्यापारी भी अच्छे से दीवाली मना पाएंगे। 1 नवंबर से धान खरीदी की शुरुआत होगी। आप सभी पैरादान जरूर करें। आपके लिए ही गौठान बनाये गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि तिलहन की फसल भी लें और गौठान में ही पेराई भी करें, इसलिये ग्रामीण आजीविका केंद्र बनाए गए हैं। इन आजीविका केंद्रों में पढ़े लिखे युवाओं के लिए भी रोजगार की व्यवस्था है। स्वास्थ्य में पाटन में अनेक प्रकार के जांच मुफ्त हो रहे हैं दुर्ग में भी इसी तरह से मुफ्त में जांच हो रही है। हम पूर्वजों के देखे सपने पूरे करने कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सभा को सामाजिक पदाधिकारी मेहतरलाल वर्मा ने भी संबोधित किया।

इस मौके पर जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष जवाहर वर्मा, जिला मंडी बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी साहू, पाटन नगर पंचायत अध्यक्ष भूपेंद्र कश्यप एवं अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थित थे। साथ ही कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा, एसपी डॉ अभिषेक पल्लव एवं अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!