HomeAdministrationचेतावनी के बाद हरकत में आया एजेंसी, नेशनल हाइवे के गडढों...

चेतावनी के बाद हरकत में आया एजेंसी, नेशनल हाइवे के गडढों का अब कांक्रीट से फीलिंग

  • पीडब्ल्यूडी सेक्रेटरी सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने कुम्हारी से दुर्ग तक एनएच का किया अवलोकन

दुर्ग @ news-36. जिले के प्रभारी सचिव एवं पीडब्ल्यूडी सेक्रेटरी सिद्धार्थ कोमल परदेसी ने आज दुर्ग जिले में कुम्हारी से लेकर नेहरू नगर टोल प्लाजा तक एनएच का अवलोकन किया। सेक्रेटरी इस बीच छह से सात महत्वपूर्ण स्थलों पर उतरे एवं यहां पर सड़क से संबंधित एवं ट्रैफिक से संबंधित महत्वपूर्ण निर्देश दिए। सचिव ने कहा कि सर्विस रोड में जहां कहीं पर गड्ढे हो, उन्हें तुरंत ठीक करें। इससे दुर्घटना की आशंकाएं बनती हैं और ट्रैफिक भी बाधित होता है अगर सर्विस रोड में किसी तरह से अवरोध ना हो तो ट्रैफिक को दुरुस्त करने में काफी आसानी होती है।

कोसा नाला के पास टोल प्लाजा का जो पुराना स्ट्रक्चर है उसे हटाने से संबंधित कार्रवाई करने के निर्देश उन्होंने दिए। इसके साथ ही सड़कों पर जहां ब्लॉक स्टोन रखे गए थे। उन्हें भी हटाने के निर्देश भी दिए। जिन रास्तों पर डायवर्शन संभव हो सकता है वह डायवर्टेड रूट बनाने के निर्देश उन्होंने दिए। कुम्हारी ओवरब्रिज के संबंध में प्रभारी सचिव ने कहा कि एनएच को जो समय सीमा दी गई है उस पर कार्रवाई करें, यह सड़क बेहद महत्वपूर्ण सड़क है और रोज हजारों लोगों की आवाजाही इस सड़क पर होती है इसके लिए तय समय सीमा पर निर्माण कार्य पूरा करें साथ ही उन्होंने एन एच के अधिकारियों को दुर्ग से लेकर कुम्हारी तक रोज मॉनिटरिंग के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस रूट में ट्रैफिक को व्यवस्थित करना पहली प्राथमिकता है। इसके लिए यातायात पुलिस के साथ समन्वय करते हुए कार्रवाई करें।

कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा कि एनएच के अधिकारियों को लगातार इस बात की ताकीद दी गई है कि समय सीमा पर निर्माण कार्य पूरा करें। प्रशासनिक स्तर से जिस तरह से भी सहयोग संभव है वह सहयोग इन्हें किया जा रहा है। सर्विस रोड की रिपेयर के लिए धीमी गति से कार्रवाई हो रही थी। इस पर लेबर बढ़ाने के निर्देश दिए गए थे एजेंसी ने लेबर बढ़ा दिए हैं। इसके साथ ही लोगों से अपील की गई है कि डायवर्टेड रूट को फॉलो करें, अपील का असर भी हुआ है और लोग डायवर्टेड रूट फॉलो कर रहे हैं डायवर्टेड रूट के लिए सिग्नल भी लगाए गए हैं और इस संबंध में प्रचार-प्रसार भी किया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular