Homeधर्म-समाजपवार क्षत्रिय संघ के नव निर्वाचित पदाधिकारियों ने लिया सांस्कृतिक विरासत को...

पवार क्षत्रिय संघ के नव निर्वाचित पदाधिकारियों ने लिया सांस्कृतिक विरासत को आगे बढ़ाने का संकल्प

भिलाई. पवार क्षत्रिय संघ भिलाई-दुर्ग के नवनिर्वाचित कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण समारोह दीक्षित कॉलोनी नेहरू नगर पूर्व स्थित राज भोज मंगल भवन में हुआ। जहां संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने सामाजिक विरासत और अपनी संस्कृति को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया।

वहीं समाज के वरिष्ठ डॉ.वाय.आर. कटरे और नंदलाल चौधरी ने नव निर्वाचित पदाधिकारियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। सांस्कृतिक सामर्थ्य, सामाजिक सौहार्द के साथ सामाजिक क्षेत्र में मिशाल कायम कर अपनी एक अलग पहचान बनाने का आग्रह किया।

बता दें कि 20 अप्रेल को पवार क्षत्रिय संघ भिलाई-दुर्ग का चुनाव हुआ। जिसमें अध्यक्ष भागवत प्रसाद देशमुख, उपाध्यक्ष हरिपाल बोपचें, गोविंद तुरकर, महासचिव कन्हैयालाल राहंगडाले, कोषाध्यक्ष दुर्गा प्रसाद भगत, संयुक्त सचिव श्याम ढंढाले एवं कार्यकारिणी सदस्य डॉ. दिलीप चौधरी, लक्ष्मीकांत बिसेन, युवाध्यक्ष किशोर राहंगडाले, महिमा अध्यक्ष आशा शरणागत को समाज के लोगों ने सर्व सम्मति से पदाधिकारी चुने थे।

संघ के नव निर्वाचित अध्यक्ष भागवत प्रसाद देशमुख ने समाज को संबोधित करते हुए कहा कि नवनिर्वाचित कार्यकारिणी संगठन के नियम, निर्देश, विरासत, गरिमामयी वातावरण का निर्माण कर नैतिक दायित्वों के प्रति समर्पण भाव से नई पीढ़ी को आगे बढ़ाएं और समाज के प्रति अपने बहुमूल्य समय को समर्पित कर अच्छे कार्यों को संपादित करें। वहीं समाज के वरिष्ठ डॉ.वाय.आर.कटरे ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों से कहा कि वे

शपथ समारोह में  संरक्षक मेघलाल बिसेन, प्रभाकर खौसी, हरि कृष्ण बिसेन, प्रहलाद पाटे एवं सलाहकार मंडल राजेश बिसेन, महेश बिसेन, आत्माराम राहंगडाले, जोगेंद्र देशमुख, राजेंद्र पवार, छोटेलाल पारधी, जियालाल चौधरी, देवी लाल गौतम, जितेंद्र बिसेन, भूपेश चौधरी एवं बड़ी संख्या में समाज सेवी शामिल हुए। कोरोना काल में जान गंवाने वाले समाज के दिवंगत आत्मा को दो मिनट मौन धारण कर श्रद्धाजंलि अर्पित करते हुए कार्यक्रम का समापन किया गया।

यह भी पढ़े:वेटलिफ्टिंग चैंपियन में तीन रजत पदक जीतने वाली ज्ञानेश्वरी का मुख्यमंत्री ने किया सम्मान

UPSC Result: छत्तीसगढ़ के युवाओं ने UPSC में लहराया परचम, श्रद्धा ने हासिल किया 45वां रैंक

पत्रकारिता का मार्ग भले ही कठिन, पर समाजिक सरोकारों से जुड़ी पत्रकारिता कभी नहीं हो सकती असफल- राज्यपाल

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!