Homeधर्म-समाजविचार को समाज में आगे बढ़ाने में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण-महामंत्री प्रेमलाल

विचार को समाज में आगे बढ़ाने में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण-महामंत्री प्रेमलाल

भिलाई.छत्तीसगढ़ डड़सेना (सिन्हा) समाज युवा मंच भिलाई का रविवार को सम्मेलन हुआ। जहां मुख्य अतिथि एवं वक्ताओं ने विचार को समाज में आगे बढ़ाने के लिए युवाओं का योगदान, समाज के लोगों में बचत की भावना को बढ़ावा देना और युवाओं को व्यापार करने के लिए प्रोत्साहित करने जैसे विषयों पर विचार रखे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात कर समाज के हित में बोर्ड या आयोग गठित करने की मांग करने का निर्णय लिया।

समाज के वक्ताओं का कहना था कि देश की आजादी के लिए शराब का निर्माण और बिक्री एक बड़ा अवरोध के रूप में देखा गया था। तब यह व्यवसाय हमारे समाज के लोगों के हाथों में था। इसलिए देश को आजाद कराने के लिए हमारे पूर्वजों ने इस व्यवसाय का परित्याग किया। सरकार इस व्यवसाय को अपने अधीन रखकर राजस्व प्राप्त कर रहा है।

chhattisgarh

सरकार ने बहुत सारे समाज के लिए उनके व्यवसाय के अनुरूप बोर्ड आदि का गठन कर समाज को आगे बढ़ाने की दिश में भी काम किया है। इसी तरह से प्रान्तीय कार्यकारिणी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से हमारे समाज के मूल पैतृक व्यावसाय के अनुरूप एक बोर्ड गठन करने का मांग किया गया है, लेकिन इस दिशा में किसी भी प्रकार से कार्रवाई सामने नहीं आया है, जिस पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री से मुलाकात कर निवेदन करने का सुझाव दिया।

युवा सम्मेलन के मुख्य अतिथि रहे प्रांतीय महामंत्री प्रेमलाल

युवा सम्मेलन के मुख्य अतिथि रहे प्रांतीय महामंत्री प्रेमलाल रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता युवा मंच भिलाई के अध्यक्ष विरेन्द्र कुमार सिन्हा ने की। जनकल्याण समिति भिलाई के मंडलेश्वर जीवन सिन्हा,अध्यक्ष रिखी राम सिन्हा ,राजनीतिक प्रकोष्ठ के प्रांतीय संयोजक जोहन सिन्हा, युवा मंच के पूर्व प्रान्ताध्यक्ष सुरेश सिन्हा राजनीतिक प्रकोष्ठ जिला दुर्ग के संयोजक नोहर सिंह गजेन्द्र,कोषाध्यक्ष छबिलाल सिन्हा, कामता सिन्हा,युवा मंच जिला दुर्ग के अध्यक्ष दीपक सिन्हा ने भी अपने विचार रखे।

कार्यक्रम को अतिथियों के अलावा तामेश्वर सिन्हा,तेखन सिन्हा, देवेन्द्र सिन्हा, बाबा सिन्हा ने संबोधित किया। वक्ताओं के विचार समाज को आगे बढ़ाने में युवाओं का योगदान, समाज के लोगों में बचत की भावना को बढ़ावा देने के लिए प्रयास करना, समाज के युवाओं को व्यापार करने के लिए प्रोत्साहित करना रहा।

यह भी पढ़ें:कॉमनवेल्थ गेम्स में बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने जीता स्वर्ण पदक

वक्ताओं ने कहा कि देश की आजादी के लिए शराब का निर्माण और बिक्री एक बड़ा अवरोध के रूप में देखा गया और व्यवसाय हमारे समाज के लोगों के हाथों में था।इसलिए देश को आजाद कराने के लिए हमारे पूर्वजों ने इस व्यवसाय का परित्याग किया, लेकिन आज सरकार इस व्यवसाय को अपने अधीन रखकर राजस्व प्राप्त कर रहा है। कार्यक्रम का संचालन सचिव टेसू सिन्हा ने किया और तामेश्वर सिन्हा ने आभार जताया। सम्मेलन में आकाश सिन्हा, प्रवीण सिन्हा, मुकेश सिन्हा, महेंद्र सिन्हा सहित अन्य शामिल हुए

यह भी पढ़ें: Exclusive:महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम ने दिखाई संवेदनशीलता, बिन मॉ-बाप के बच्चाें के लिए महिला अधिकारी बनें सहारा

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!