Homeबिजनेसडेथ रोड के नाम से मशहूर हैं ये हाइवे, यहां जरा सी...

डेथ रोड के नाम से मशहूर हैं ये हाइवे, यहां जरा सी गलती यानी मौत

आपने दुनिया में एक से बढ़कर एक शानदार हाईवे (Highway) और सड़कों के बारे में सुना होगा। कई बार देखा भी होगा। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे हाईवे के बारे में बताने जा रहे हैं जो डेथ रोड (Death Road) के नाम से मशहूर है। यहां जरा सी गलती का मतलब है सीधे मौत। ये हाईवे (D915) इतना ज्यादा खतरनाक है कि लोग इसका नाम सुनकर ही कांप जाते हैं।

कई लोग इस हाईवे (D915 Highway) पर जाने के लिए हिम्मत तक नहीं जुटा पाते हैं। चलिए आपको बताते हैं इस हाईवे के बारे में। यह किस देश में है और इसे क्यों डेथ रोड (Death Road) कहकर भी बुलाया जाता है। पहले यह माना जाता था कि दुनिया की सबसे खतरनाक सड़क दक्षिण अमेरिकी देश बोलीविया में है। लेकिन अब ऐसा नहीं है। यह अनचाहा तमगा किस और सड़क को मिल चुका है।

तुर्की में है खतरनाक हाईवे
दुनिया का सबसे खतरनाक हाईवे तुर्की (Turkey) के ट्राब्जोन क्षेत्र में पड़ने वाला D915 हाईवे (Death Road) है। इसपर से गुजरना एक कुशल ड्राइवर के लिए भी चुनौतीपूर्ण होता है। इस हाईवे से जो भी गुजरता है कुछ समय के लिए उसकी सांसे थम जाती हैं। इस हाईवे (World Most Dangerous Highway) की एक और ऊंचे-ऊंचे पहाड़ हैं, तो दूसरी ओर बिना रेलिंग के गहरी खाइयां हैं। अगर आपको भी एडवेंचर पसंद है तो इस सड़क पर सफर करने में मजा आएगा।

बेबर्ट डी 915 रोड को माना जाता है सबसे डेंजरस

National
फोटो सोशल मीडिया

अभी तक दुनिया की सबसे खतरनाक रोड के रूप में बोलीविया के डेथ रोड को जाना जाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है। हाल ही में किए गए एक रिसर्च के आधार पर dangerousroads.org वेबसाइट ने तुर्की के बेबर्ट डी 915 रोड को सबसे डेंजरस माना है।

वेबसाइट के मुताबिक, हेयरपिन की तरह इस रोड पर कुल 29 मोड़ हैं, जहां गाड़ी को घुमाना बहुत ही मुश्किल है। इतना ही नहीं, सड़क के किनारे रेलिंग भी नहीं है। ऐसे में यहां पर जरा-सी चूक का मतलब मौत है। बेहतर से बेहतर ड्राइवर भी अपने रिस्क पर ही इस रोड पर सफर करता है। हालांकि, ये सड़क कितनी खतरनाक है, इसे शब्दों और फोटो के जरिए भी बता पाना भी आसान नहीं है।

फोटो सोशल मीडिया

6 हजार फीट की ऊंचाई पर बनी है ये सड़क

तुर्की की ये सड़क 106 किलोमीटर से ज्यादा लंबी है, जो 6 हजार फीट ऊंची सोगान्ली माउंटेन पर बनी है। इसे 1916 में रूसी सैनिकों द्वारा बनाया गया था। इसका उपयोग ज्यादातर आस-पास के इलाकों में रहने वाले लोग ही करते हैं। हालांकि, ठंड में बर्फबारी की वजह से इसे बंद कर दिया जाता है।

इस हाईवे पर आते हैं चक्कर
इस हाईवे की सड़क ज्यादातर कच्ची है। सड़क का मुख्य हिस्सा ढीली बजरी से बना है। यहां पर ड्राइव बहुत चुनौतीपूर्ण है। इसमें अनगिनत खतरनाक मोड़ और खड़े हिस्से हैं। यह एक घुमावदार सड़क है जो चट्टानों से नीचे उतरती है। कई जगहों पर ये संकरी होती है कि आप पहली बार मुड़ नहीं सकते। ये उन ड्राइवरों के लिए भयानक होते हैं जिन्हें चक्कर आने का खतरा होता है।

 

ब्रेक लगाने का भी नहीं मिलता मौका
ये हाईवे इतना खतरनाक है कि इस पर लोगों को गाड़ी में ब्रेक लगाने तक का मौका नहीं मिल पाता है। इस हाईवे पर बहुत सारे पर्यटक एडवेंचर की तलाश में आते हैं। इनमें से कई बार ये बहुत खतरनाक साबित होता है। अगर मौसम खराब हो तो इस हाईवे पर बिलकुल भी नहीं जाना चाहिए।

हर साल हजारों लोग गंवाते हैं जान
ये हाईवे इतना खतरनाक है कि हर साल इस पर हजारों लोग अपनी जान गंवा देते हैं। कोहरे और बारिश के समय ये और खतरनाक हो जाता है। कई बार इाईवे पर पहाड़ों से पत्थर भी गिरते रहते हैं। इसलिए इस हाईवे को डेथ रोड भी कहा जाता है। अक्सर आसपास के लोग इस हाईवे पर जाने से मना करते हैं।

अकल्पनीय प्रेम: मालिक की मौत पर दूर गांव से मुक्तिधाम पहुंच गया बछड़ा,ग्रामीणों के साथ निभाई अंतिम संस्कार की रस्म

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!