HomeEntertainmentCrimeराहगीरों से मोबाइल और नगद लूट लेने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, मोबाइल...

राहगीरों से मोबाइल और नगद लूट लेने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, मोबाइल और बाइक जब्त

दुर्ग. राहगीरों को धरा धमकाकर मोबाइल और पैसों की लूट की घटना को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक मोबाइल फोन और बजाज पल्सर मोटर सायकल बरामद किया है। आरोपियों में दो युवक हैं और एक अपचारी बालक है। तीनों आरोपी मोटर सायकल में घूम घूमकर घटना काे अंजाम देते थे। हाल में ही दुर्ग में मोबाइल लूट की घटना को अंजाम दिया था।

इस मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से थाने में मारपीट एवं डरा धमका मोबाइल और पैसे की लूट की शिकायतें मिल रही थी। जिस पर एएसपी संजय ध्रुव, सीएसपी  विश्वास चंद्राकर, साइबर सेल नसर सिद्दकी और क्राइम ब्रांच निरीक्षक संतोष मिश्रा और पुरानी भिलाई थाना प्रभारी मनीष शर्मा की टीम संदिग्ध लोगों और ऐसे आदतन अपराधी जो जेल से छूटे हुए थे, उन पर नजर रखी हुई थी।टीम ने उनमे से कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना बन रहा वरदान,योजना ने सीता देवी की बचायी जान

इस बीच विशेष सूत्रों से पता चला कि पुरानी भिलाई हट्खोज में तीन संदिग्ध लड़के घूम रहे हैं। टीम द्वारा घेराबंदी कर उनको पकड़ा गया और पूछताछ करने पर संतोष जवाब नहीं दिया। उन्हें थाना लाकर कड़ाई से पूछताछ की गई तो युवकों ने दुर्ग क्षेत्र में मोबाइल लूट की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया।

पुलिस ने न्यायालय के निर्देश पर इंदिरा नगर हथखोज के रहने वाले आरोपी रितेश अहिरवार उर्फ केम्मा, पिता मंशाराम 22 और दुर्गा मंदिर प्रभु किराना स्टोर खुर्सीपार के रहने वाले विट्ठल उर्फ उमेश राव पिता जगन्नाथ राव उम्र 30 वर्ष को न्यायालय में पेश किया। वहीं अपचारी बालक को बाल सुधार गृह भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: मंत्रिपरिषद का महत्वपूर्ण निर्णय, इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीदी पर मिलेगी छूट

युवा व्यावसायी को प्रेमिका से मिलने के लिए जाना था पटना, इसलिए खुद रची थी अपनी मृत्यु की साजिश 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!