Homeराज्यमासूम को सुरक्षित निकालने में मिली सफलता, छत्तीसगढ़ के इतिहास में अब...

मासूम को सुरक्षित निकालने में मिली सफलता, छत्तीसगढ़ के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन

रायपुर.छत्तीसगढ़ के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया है। जांजगीर-चांपा जिले के मालखरौदा विकासखंड के गांव पिहरीद के बोरवेल में फंसे 11 साल के राहुल साहू तक पहुंचने के लिए एनडीआरएफ,, एसडीआरएफ और सेना के जवानों ने शनिवार से टनल बनाने का काम शुरू कर दिया था जो आज 10.30 बजे तक चली। करीब 80 घंटे का रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद टीम को बच्चे तक पहुंचने में सफलता मिली।

मुख्यमंत्री लेते रहे पल-पल का अपडेट

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पल-पल का अपडेट लेते रहे और कलेक्टर जितेंद्र शुक्ला को निर्देश देते रहे। पांच मिनट पहले ही मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल के रेस्क्यू का ऑपरेशन अंतिम दौर में है। स्वास्थ्य विभाग का अमला पूरी तरह से मुस्तैद है। सीएमएचओ, सिविल सर्जन, बीएमओ सहित चिकित्सक और स्टाफ़ नर्स आपातकालीन चिकित्सा व्यवस्था के लिए तैयार है। राहुल को ग्रीन कॉरिडोर बनाकर अपोलो अस्पताल ले जाएगा।

 

chhattisgarh
मौके पर तैनात चिकित्सा विभाग की टीम

मुख्यमंत्री ले रहे हैं पल-पल का अपडेट
मुख्यमंत्री स्वयं पल-पल की अपडेट ले रहे। अधिकारियों को मुस्तैद होकर हर संभव प्रयास करने के निर्देश दे रहे हैं। बता दें कि टनल की खुदाई चल रही है। खदान में रेस्क्यू करने वाली कुसमुंडा और मनेन्द्रगढ़ के एसईसीएल के अधिकारियों से चर्चा कर टनल बनाने का काम शुरू किया गया है। बताया जा रहा है कि बालक तकरीबन 9 मीटर दूर है। रेस्क्यू टीम को उन तक पहुचंने में कम से कम 6 घंटे लगेगा।

chhattisgarh
राहुल के परिचनों से वीडियो कॉल पर चर्चा करते हुए सीएम बघेल

राहुल ने बाल्टी में पानी भरने में की मदद

आज दोपहर को जब मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉल कर रोबोट और इसके संचालन की प्रक्रिया की जानकारी ली। तब रोबोट के संचालक महेश अहीर ने मुख्यमंत्री को बताया कि राहुल ने खुद बाल्टी से पानी भरने में मदद कर रहा है। बालक की स्थिति ठीक है। इसके बाद मुख्यमंत्री ने राहुल की दादी से भी वीडियो काल से बात की। विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत और प्रभारी मंत्री जय सिंह अग्रवाल अधिकारियों से पिहरीद के घटनाक्रम की लगातार अपडेट ले रहे हैं।

बता दें मालखरौदा विकासखंड के गांव पिहरीद में 11 वर्षीय बालक राहुल साहू शुक्रवार की दोपहर को बाेरवेल के गड्ढे में गिर गया है और करीब 60 फीट की गहराई में फंसा हुआ है। उसे निकालने के लिए शुक्रवार की दोपहर से रेसक्यू ऑपरेशन चल रहा है।इस ऑपरेशन में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के साथ ही सेना के जवान लगे हुए हैं। इसके अलावा राज्य के पांच आईएएस, दो आईपीएस समेत विभिन्न विभागों के 500 से ज्यादा अफसर और कर्मचारी राहुल को बचाने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत और प्रभारी मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने भी पिहरीद के घटनाक्रम की जानकारी ली और अधिकारियों को रोबोट के माध्यम से रेस्क्यू करने और अन्य विकल्प भी रेस्क्यू के लिए तैयार रहने की बात कही।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने पत्थलगांव में 42 करोड़ 62 लाख की लागत से निर्मित 56 कार्याें का किया लोकार्पण

राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी तेज, बीजेपी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष और रक्षा मंत्री सिंह को राजनीतिक दलों को साधने की दी जिम्मेदारी

हार से बौखलाए अफगानिस्तान के खिलाड़ी,भारतीय खिलाड़ियों से भिड़े

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!