Homeराज्यचंद्रपुर में मरीन ड्राइव की तर्ज पर विकसित किया जाएगा पर्यटन...

चंद्रपुर में मरीन ड्राइव की तर्ज पर विकसित किया जाएगा पर्यटन स्थल -मुख्यमंत्री

  • मुख्यमंत्री ने विभिन्न समाजों के प्रतिनिधि मंडल से की मुलाकात
  • मुकुटधर पाण्डेय के नाम से जाना जाएगा चन्द्रपुर कॉलेज
  • साराडीह बैराज में पर्यटन स्थल का होगा विकास

चंद्रपुर.मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को भेेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान नवगठित जिला सक्ती के चन्द्रपुर विश्राम गृह में विभिन्न समाजों के प्रमुख और सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। स्वर्गीय मुकुटधर पाण्डेय स्मृति समिति की मांग पर मुख्यमंत्री ने चन्द्रपुर के कॉलेज का नामकरण मुकुटधर पाण्डेय के नाम पर करने की बात कही और पुस्तकालय की मांग पर सहमति जताते हुए डभरा में सब्जी मंडी खोलने की घोषणा की। वहीं पूर्व महामहिम राष्ट्रपति से सम्मानित नीलांबर देवांगन ने मुख्यमंत्री को कोसा से बना जैकेट पहनाकर अभिनंदन किया।

मुख्यमंत्री ने समाज के जरूरतमंद लोगों को शासकीय योजनाओं की जानकारी देने और कार्यक्रमों का लाभ उठाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि समाज के लोगों को बेहतर शिक्षा की सुविधा के लिए बच्चों को प्रेरित और उत्साहित करना चाहिए। उन्होंने शासन द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ मंच पर विधायक रामकुमार यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष यनिता चन्द्रा, ऊर्जा सचिव अंकित आनंद, प्रभारी सचिव धनंजय देवांगन और कलेक्टर नुपूर राशि पन्ना भी मौजूद थीं।

chhattisgarh
सीएम से चर्चा करते हुए विभिन्न् समाज के प्रतिनिधि मंडल

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कंवर समाज के प्रतिनिधि मंडल द्वारा ग्राम पंचायत टूण्ड्री में कृषि कॉलेज की मांग पर पहले वहां भवन होने की बात कही। उन्होंने बताया कि कैबिनेट की बैठक में कल ही यह फैसला लिया गया है कि कॉलेज के लिए सरकार पूरा सहयोग करेगी। मुख्यमंत्री ने इस संबंध में कलेक्टर को इस विषय में जानकारी देने के निर्देश भी दिए और कहा कि एक समिति बनाकर कॉलेज का संचालन किया जाए। ब्राम्हण गोस्वामी समाज द्वारा कलमा में बाढ़ से बचाव राहत कार्य के संबंध में मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने आज ही सभी बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में आवश्यक बचाव के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

  • ग्राम मुक्ता के गौठान में समतलीकरण एवं मुरूमीकरण निर्माण कार्य की स्वीकृति, लागत राशि 19 लाख रुपए।
  • ग्राम पंचायत मुक्ता से जनपद पंचायत मालखरौदा के आगे सीसी रोड निर्माण कार्य की स्वीकृति, लागत राशि 20 लाख रुपए।
  • ग्राम मुक्ता में सामुदायिक भवन की स्वीकृति, लागत 7 लाख रुपए।
  • ग्राम जमगहन के खनती तालाब में सौंदर्यीकरण निर्माण कार्य की घोषणा, लागत 19 लाख रुपए।
  • ग्राम मुक्ता के मुक्तिधाम में अहाता और शेड निर्माण कार्य की घोषणा।
  • ग्राम मुक्ता के मुड़ातालाब में तटबंध (दीवाल) निर्माण कार्य करने की घोषणा।
  • ग्राम पंचायत मालखरोदा में मुख्यमार्ग कलमी, नहरपार से चिखली, छोटेकोट, सिघरा होते हुए बेल्हाडीह तक सड़क निर्माण की घोषणा,       (लगभग 12 किलोमीटर)।
  • ग्राम पंचायत सिघरा में महिलाओं के प्रशिक्षण के लिए एन.आर.एल.एम. डोम निर्माण कार्य की घोषणा।
  • ग्राम पंचायत सारसडोल में शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला को नवीन हाई स्कूल में उन्नयन की घोषणा।
  • ग्राम जमगहन व सुलौनी में शासकीय हाई स्कूल का हायर सेकेंडरी स्कूल में उन्नयन की घोषणा।
  • ग्राम मुक्ता में नवीन हाई स्कूल की घोषणा।
  • नगर पंचायत अडभार में मां अष्टभुजी देवी की नगरी को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की घोषणा।
  • मालखरौदा में युवा प्रशिक्षण केंद्र में अहाता निर्माण की घोषणा।
  • खर्री गांव में पुल निर्माण की घोषणा।

ग्राम- साराडीह, विकासखण्ड- डभरा

  • साराडीह में सामुदायिक भवन का निर्माण की घोषणा।
  • साराडीह बैराज में पर्यटन स्थल का होगा विकास।
  • साराडीह में रामनिषाद घर से मांझा खोल तक सीसी रोड निर्माण।
  •  चंद्रपुर में नया थाना भवन निर्माण।
  • चंद्रपुर में पर्यटन स्थल का विकास मरीन ड्राइव का निर्माण।
  • ग्राम टूंड्री में पुलिस चौकी निर्माण करने की घोषणा।
  • ग्राम सिरियागढ़ के शासकीय हाई स्कूल को हायर सेकेंडरी में उन्नयन किया जाएगा।
  • सकराली में बनेगा 33/11 केवी सब स्टेशन।
  • ग्राम साराडीह में विद्युत लाइन का होगा विस्तार।
  • डभरा शासकीय कॉलेज रोड का निर्माण।
  • डभरा में सब्जी मंडी खोलने की घोषणा।

चन्द्रपुर

  • मुख्यमंत्री ने देवांगन समाज के भवन के लिए 25 लाख देने की घोषणा की।
  • मुख्यमंत्री ने चन्द्रपुर कॉलेज का नाम मुकुटधर पांडेय के नाम करने की घोषणा की।
  • दिव्यांग उद्धव यादव ने अपनी आर्थिक समस्या से अवगत कराया और  टेलरिंग के काम को बढ़ाने के लिए राशि की मांग पर मुख्यमंत्री ने 50 हजार रूपये देने की घोषणा की।
  • मुख्यमंत्री ने माली समाज के धर्मशाला के लिए 20 लाख रूपये देने की स्वीकृति दी।
  • मुख्यमंत्री ने यादव झेरिया समाज के सामुदायिक भवन के लिए 20 लाख देने की स्वीकृति दी।
  • मैत्री समाज के सामजिक भवन के लिए मुख्यमंत्री ने 10 लाख रूपये की राशि स्वीकृत की।
  • मुख्यमंत्री ने डभरा-मड़वा में कबीर समाज के सत्संग भवन  के लिए 20 लाख रूपये देने की स्वीकृति दी।
RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!