HomeUncategorizedहनुमान जी के चबूतरे को तोड़ने का वीडियो वायरल,आक्रोशित हिन्दू संगठनों ने...

हनुमान जी के चबूतरे को तोड़ने का वीडियो वायरल,आक्रोशित हिन्दू संगठनों ने एसपी से की कार्रवाई की मांग

शिवसेना के बाद करणी सेना,भगवा सेना, श्री राम सेना ने की FIR की मांग

भिलाई. सेक्टर 8 में मंदिर तोड़े जाने के बाद हिंदू संगठनों ने बीएसपी प्रबंधन के खिलाफ जन कर आक्रोश है। अब मंदिर तोड़ने का वीडियो भी सामने आ गया है यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें बीएसपी के अधिकारी सेक्टर 8 स्थित मंदिर को तोड़ते हुए दिख रहे हैं इस वीडियो वायरल होने के बाद आक्रोशित हिंदू संगठन एकजुट होकर फिर से मंदिर निर्माण और FIR की मांग की है।

बता दें कि मंगलवार को करणी सेना भिलाई,भगवा सेना, श्री राम सेना और जय हनुमान सेवा वाहिनी ने SP से मुलाकात की और उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी साथ ही वायरल वीडियो भी एसपी को दिखाया गया और जल्दी से जल्द कार्रवाई की मांग की। साथ ही यह भी कहा कि यदि पुलिस प्रशासन बीएसपी अधिकारी कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करेंगी तो हिंदू संगठन मिलकर उग्र आंदोलन करेंगे। जिसके लिए जिला प्रशासन जिम्मेदार होगा।

बता दें कि पिछले दिनों एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने नगर सेवाएं विभाग में हंगामा किया था। जिस पर बीएसपी प्रबंधन द्वारा मंदिर तोड़े जाने को लेकर साफ मना कर दिया था, लेकिन अब मंदिर को तोड़ते हुए एक वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ लोग मंदिर को तोड़ते हुए दिखाई दे रहे है। वहां एक कार भी मौजूद है। वहीं एक गार्ड भी वहां उपस्थित थी ।बीएसपी की इस हरकत के बाद आक्रोशित वार्डवासी और हनुमान सेवा वाहिनी संगठन ने एसपी कार्यालय कर घेराव कर बीएसपी प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके साथ ही दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। इस  मामले में अब लोगों का आक्रोश और बढ़ता जा रहा है।

इन्होंने की थी शिकायत
शिवसेना पहुची कलेक्टोरेट तो सेक्टर 6 कोतवाली पहुचे श्री राम संगठन के पदाधिकारी बता दें कि आज विरोध प्रदर्शन करने वाले कलेक्टर के पास पहुँचे तब कहीं जाकर प्रशासन ने बातचीत की। श्री राम सेवा संगठन ने एसपी के सामने अपनी मांग रखी है कि पुलिस प्रशासन जनता की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले और मंदिर तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें।

ये है पूरा मामला
दरअसल, भिलाई के सेक्टर 8 में नीम और बरगद का पेड़ का है, जिसके नीचे वार्डवासियों ने हनुमान जी स्थापित किए हैं। अब वर्षों पुरानी चबूतरे को बीएसपी द्वारा अवैध कब्जा बताकर कार्रवाई करते हुए तोड़ दिया गया। इसके बाद लोग आक्रोशित हो गए। वहीं सूचना मिलने के बाद पहुंचे हनुमान सेवा वाहिनी संगठन ने एसपी कार्यालय का घेराव कर जमकर विरोध प्रदर्शन किया और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की। साथ ही मंदिर को पुन: बनाने की मांग रखी। जिस पर आश्वासन मिलने के बाद मामला शांत हुआ।

यह भी पढ़ें: 6 लाख 25 हजार गंवाया, चिटफंड के शिकंजे में फंसे नागरिकों की जनदर्शन में दस्तक

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

error: Content is protected !!